Motivational story on positive thought in hindi

हर सिक्के के दो पहलू होते है एक सकारात्मक और दूसरा नकारात्मक। हमारी जिंदगी के यही दो पहलू हमारी सफलताओ को काफी हद तक निश्चित करते है। सकारात्मक रहने वाला व्यक्ति अंधेरे मे रोशनी, निराशा मे आशा और असंभव मे संभव खोजने की कोशिश करता है। यहा हम आपके साथ एक ऐसे ही व्यक्तित्व की कहानी शेयर कर करने जा रहे है david vs goliath; Motivational story on positive thought जो बाइबल की एक प्रसिद्ध कथा है और आपको सकारात्मक जीवन जीने के लिए प्रेरित करेगी।

यह कहानी david और goliath की है। डेविड इज़राइल मे रहता था और भेड़ चराया करता था। ईश्वर ने डेविड को यहूदियो की सहायता के लिए चुना. फिलिस्तीनी सेना इज़राइल के विरुद्ध युद्ध करने के लिए एकत्रित हुई. इस सेना मे goliath नामक एक विशालकाय व्यक्ति भी था जो नौ फिट लंबा था और उसका सारा शरीर कवच से ढका हुआ था. वह चालीस दिनो से रोज इज़राइली सेना को चुनौती देने आता और उनका मज़ाक उड़ाता था, सारी इज़राइली सेना इज़राइल के राजा saul समेत goliath से भयभीत थी और युद्ध करने से डर रही थी। एक दिन डेविड के पिता ने उसको मैदान पर जाकर अपने भाई की खबर लाने को कहा। उस समय डेविड एक छोटा बच्चा था, वहा पहुचकर डेविड ने देखा की goliath रोज की तरह इज़राइली सेना का अपमान कर रहा है और इज़राइली सेना उससे डरी हुई है. तब डेविड goliath से लड़ने को तैयार हो गया और इज़राइल के राजा saul ने डेविड को उस विशालकाय दानव से लड़ने की अनुमति दे दी. डेविड अपनी गुलेल और बहुत सारे पत्थर लेकर दानव से लड़ने मैदान पर उतर गया. Goliath डेविड पर पहले तो हंसा और फिर चिल्लाया और उसे डराने धमकाने लगा. डेविड ने उससे कहा की तुम मेरे विरूद्ध तलवार और भाला लेकर आए हो लेकिन मै तुमसे लड़ने के लिए सर्वशक्तिमान ईश्वर का नाम लेकर आया हूँ. तब goliath डेविड को मारने आगे बड़ा तो डेविड ने एक पत्थर goliath के सिर पर मारा जो goliath के माथे पर जा लगा जिससे goliath जमीन पर गिर पड़ा और तब झट से डेविड ने goliath की तलवार लेकर उसका सिर काट दिया. फिलिस्तीनीयों ने जब देखा की goliath मर चुका है तब वे मुड़कर भाग गए.

इस motivational story से क्या सीख मिलती है

जब सारी इज़राइली सेना goliath से डरी हुई थी तब डेविड ने सकारात्मक दृष्टिकोण अपनाया और यह दिखा दिया की कमजोर होने के बावजूद अगर इरादे पक्के और विश्वास दृढ़ हो तो बड़ी मुसीबत का सफलतापूर्वक सामना किया जा सकता है.

अगर आपको ये motivational story पसंद आई तो इसे अपने दोस्तो के साथ भी शेयर करे। आगे के लेख प्राप्त करने के लिए हमे subscribe करे। subscription is free of cost so please subscribe us and like our fb page।

RECOMMENDED STORY

ज़िंदगी जीने का नजरिया बताता cup

power of optimism – अंधेरे मे रोशनी का प्रतीक

3 Comments

  1. अभिषेक 03/04/2016
  2. janak 07/04/2016
  3. Bunty 24/11/2016

Leave a Reply