जानिए उपवास के शारीरिक और मनोविज्ञानिक फायदे Fasting in hindi

हमारे देश में बहुत पुराने समय से ही उपवास (Fasting) को बहुत अधिक महत्व दिया गया है. क्योकि एक आम इंसान कठोर तपस्या नहीं कर सकता है इसलिए साधारण आदमी के लिए उपवास (Fasting) को ही तप के रूप में देखा जाता है. लोग इसे भगवान् तक अपनी बात पहुचाने तक के जरिये के रूप में देखते है. आध्यात्मिक और धार्मिक साधना के रूप में प्राचीन समय से ही उपवास रखे जाते  है। चाहे वह नवरात्रि के व्रत हो या करवा चौथ का पुरे भारत में सभी व्रत लोगो द्वारा असीम श्रद्धा से रखे जाते है. आज के दौर में लोग इसे सिर्फ श्रद्धा या अन्धविश्वास से जोड़कर देखते है. लेकिन क्या आप जानते है व्रत आपकी हेल्थ के लिए कितने जरुरी है? किस तरह उपवास रखने से आपकी आयु बढ़ सकती है? यह बात हम नहीं कह रहे इसका दावा विज्ञानं करता है.

इस पोस्ट में हम आपके साथ व्रत के शारीरिक और मनोविज्ञानिक फायदों के बारे में जिक्र करेंगे – Benifits of Fasting in hindi

 

  • पाचन तंत्र मजबूत होता है – Fasting Speeds Up The Metabolism

महीने में कम से कम ३ बार उपवास रखने से हमारी पाचन क्रिया मजबूत रहती है. हमारा stomach और liver एक मशीन की तरह है. जिस तरह आप किसी मशीन को दिन रात इस्तेमाल नहीं कर सकते ठीक उसी प्रकार अपनी हेल्थ के लिए अपनी बॉडी को आराम देना बहुत जरुरी है.

  • प्रतिरोधक क्षमता बढती है – fasting improve immune system

 

उपवास (Fast) रखने से बिमारियों से लड़ने की क्षमता बढती है. न्यूराल्जिया, कोलाइटिस, थकान, कब्ज, सिरदर्द, गैस, कोलाइटिस होने के चांस काम होते है.

  • तनाव कम होता है – reduce stress

व्रत रखने से तनाव, चिंता और अवसाद से बचा जा सकता है. इससे शरीर में स्फूर्ति बनी रहती है और मन शांत रहता है . उपवास रखने से हमारी will power  भी मजबूत होती है

  • स्मरण-शक्ति तेज होती है – improve memory

अगर आपका खानपान अच्छा है और आप हफ्ते में एक बार उपवास रखते है तो इससे आपकी सोचने की क्षमता और यादाश्त में तेजी आयगी. साथ ही साथ अल्जाइमर होने के चांस भी भी घटेंगे.

  • ब्रेन पॉवर बढती है – Improves Brain Function

हफ्ते में एक बार व्रत रखने से हमारा brain सुचारू से रूप से काम करता है. इससे हमारे दिमाग में brain-derived neurotrophic factor (BDNF) नामक प्रोटीन में वृद्धि होती है जो हमारे दिमाग की proper functioning को कण्ट्रोल करता है और साथ ही साथ Parkinson’s disease की सम्भावना को भी कम करता है.

  • वजन कंट्रोल होता है – maintain weight

अगर आप अपने वजन को कंट्रोल करना चाहते है तो आपके लिए उपवास (Fasting) सबसे उत्तम तरीका है. इससे प्राकर्तिक रूप से हमारे अन्दर के extra fat में कमी आती है. साथ ही fasting हमारी over eating की आदत को घटाता है और खाने की सही आदत को बनाता है. इसका आलावा स्किन पर मुहासे भी कम होते है.

शायद यही वजह है की प्राचीन समय से ही आयुर्वेद में उपवास को काफी महत्व दिया जाता है और हर धर्म में शुभ काम की शुरुआत उपवास के साथ होती है.

कृपया इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ शेयर करे और हमारे नय आर्टिकल्स को तुरंत पाने के लिए हमारा facebook page like करे और निचे free subscribe करे.

 

READ MORE

क्यो और कैसे करे मेडिटेशन– Meditation in Hindi For Beginners

सफलता का मंत्र है यह योग karma yoga in Hindi

जानिए व्यायाम के मनोविज्ञानिक फायदे – Benefits of Exercise

जानिए Vitamin B Complex कमी से आपकी Health को क्या खतरे हैं

अपनाएं विपरीत परिस्थितियों में खुश रहने के अचूक टिप्स

जानिए भारत में प्रचलित 10 अन्धविश्वास और उनके लॉजिक

 

loading...

NOTE:We try hard for accuracy and correctness. please tell us If you see something that doesn’t look correct or you have any objection. please comment and share this article.

2 Comments

  1. Mangesh chawre 06/01/2017
  2. Mangesh chawre 06/01/2017

Leave a Reply