जानिए क्या रूप ले सकती है आपकी दबी हुई इच्छाए

इंसान की कई इच्छाए होती है  जिसे वो खुल कर प्रकट नहीं कर पाता इसलिए वह उन्हें अपने मन में दबा लेता है लेकिन कई बार इन इच्छाओ के कारण वह इतना परेशान हो जाता है की वो गहरे तनाव में चला जाता है. जब यही दबी हुई इच्छाए बिमारियों या दुसरे किसी लक्षणों के रूप में सामने आती है तो इसे conversion कहा जाता है.

conversion एक ऐसी मनोविज्ञानिक मनोरचना (psychological defense mechanism) है जिसमे इंसान अपने मानसिक समस्याओ या मानसिक संघर्षो और तनाव (stress) से मुक्ति पाने के लिए उन्हें शारीरिक लक्षणों (physical symptoms) में बदल देता है. यह एक मानसिक प्रक्रिया है और कोई भी व्यक्ति इसे अपनी इच्छा से या जानबुझकर नहीं करता.

conversion के अनेको उदहारण हमारी रोजमरा के जिन्दगी में देखने को मिलते है. कई बच्चे जो exams के समय बहुत ज्यादा डर जाते है उनमे ठीक परीक्षा के दिनों में तेज बुखार, दस्त, खांसी, जुकाम, diarrhoaea आदि के लक्षण देखने को मिलते है. इस तरह से वह अपने आप को exams के कारण  पैदा हुए  डर से मुक्त कर लेते है.

लड़ाई झगडे के समय कई लोगो विशेषकर औरतो को सांस लेने में दिक्कत या दिल में दर्द होने लग जाता है हालाकि इसका कोई मेडिकल कारण नहीं होता. लेकिन मानसिक तोर पर पैदा हुआ तनाव शार्रीरिक लक्षणों के रूप में दिखाई देता है.

कई बार माता पिता अपने बच्चे की तरफ ध्यान नहीं  देते. ऐसी स्थिति में बच्चे कई बार गहरे तनाव में चले जाते है और बीमार पढ़ जाते है या और कोई शारीरिक समस्या देखने को मिलती है हालाकिं मेडिकल तोर पर बीमारी का कोई कारण नहीं होता. पेरेंट्स द्वारा स्पेशल अटेंशन पाने से बीमारी अपने आप चली जाती है.

इस तरह कई example है जहाँ तनाव से paralyse और blindness जैसी समस्या देखने को मिलती है

conversion के कारण पैदा होने वाले रोगों या लक्षणों का कोई शारीरिक आधार नहीं होता है. इस तरह का मानसिक रूपांतर (mental conversion) आम तोर पर अचेतन (unconscious) रूप से होता है इसलिए इससे पीड़ित इंसान भी अवगत नहीं होता.

Counseling के जरिये इसे आसानी से ठीक किया जा सकता है.

 

Related Posts

वहम की बीमारी है डिल्यूशन डिसऑर्डर

कहीं आपका डर Phobia तो नहीं बन गया – PHOBIA A TO Z

क्या आप Alzheimer के बारे मे जानते है – Alzheimer Disease in hindi

तो ऐसे जा सकते है आप पिछले जन्म मे – Past life regression

मनोविज्ञान क्या कहता है

 


निवेदन ; कृपया इस post को अपने मित्रो के साथ भी शेयर कीजिये और COMMENTS करके बताये की आपको यह post कैसा  लगा . आपके COMMENTS हमारे लिए बहुत उपयोगी सिद्ध होंगे. हमारे आने वाले ARTICLES को पाने के लिए नीचे फ्री मे SUBSCRIBE करे।


 

यदि आप psychology, motivation, inspiration और stories से संबंधित कोई लेख हमारे साथ शेयर करना चाहते है तो आपका स्वागत है. कृपया अपने लेख हमें whatsknowledge2@gmail.com पर भेजें या contact us पर भेजें. हम आपका लेख आपके नाम और फोटो के साथ publish करेंगे.

 

NOTE:We try hard for accuracy and correctness. please tell us If you see something that doesn’t look correct or you have any objection.

Did you enjoy this article?
सभी नए Posts अपनी E-Mail पर तुरंत पाने के लिए यहाँ अपनी E-mail ID लिखकर Subscribe करें। कृपया यहाँ Subscribe करने के बाद अपनी E-mail ID खोलें तथा भेजे गये वेरिफिकेशन लिंक पर क्लिक करके वेरीफाई करें।
WHATSKNOWLEDGE .COM का WHATSAPP GROUP JOIN करे और पाए सभी आर्टिकल्स सीधे मोबाइल पर हमें WHTASAPP करे 7065908804 पर और लिखे Add me to whatsknowledge group

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *