खांसी और जुकाम को रोकने के 15 प्रभावशाली घरेलू उपाय

प्राचीन काल में घरेलू नुस्खो का काफी उपयोग होता था, आज भी कई लोग खांसी और जुकाम होने पर डॉक्टर के पास ना जाकर उसका इलाज घरेलू नुस्खो से ही करते है, इसका कारण ये है की इन घरेलू नुस्खो का कोई नुकसान या साइड इफेक्ट नहीं होता और ये नुस्खे काफी प्रभावशाली और कम खर्चीले भी होते है. वे लोग जो केमिकल वाली दवाओ से बचना चाहते है उनके लिए घरेलू नुस्खे काफी लाभदायक साबित हो सकते है. आज हम आपको ऐसे ही कुछ घरेलू नुस्खो के बारे में बतायेंगे जो की खांसी सर्दी जुकाम में राहत पहुचाने मे काफी लाभदायक सिद्ध हो सकते है.

 

खांसी या जुकाम होना आम बात है खासकर सर्दियों मे, खांसी आपके गले को बलगम से साफ रखने में मदद करती है. खांसी बैक्टीरियल या वायरल इन्फेक्शन, एलर्जी, साइनस इन्फेक्शन या ठण्ड के कारण हो सकती है. खांसी के साथ कुछ लक्षण भी दिखाई दे सकते है जैसे सिरदर्द, बुखार, जुकाम, गले की खराश. खांसी और इसके लक्षणों का एहसास होते ही इसका इलाज तुरंत कर लेना चाहिये क्योकि यह काफी तकलीफ दे सकती है.  ऐसे लोग जो एलोपेथिक दवाइयों से परहेज करते है वे इन घरेलू नुस्खो का लाभ उठा सकते है.

 

खांसी और जुकाम को रोकने के 15 नुस्खे – home remedies for cold and cough in hindi

 

  • हल्दी वाला दूध (turmeric milk)

खांसी की शुरुआत चाहे जिस भी कारण से हुई हो इसका इलाज हल्दी वाले दूध से किया जा सकता है. हर धर में इसका इस्तेमाल होता है.भोजन में इसका इस्तेमाल किया जाता है लेकिन हल्दी औषधीय गुणों से भी परिपूर्ण है. हल्दी को एक ग्लास गर्म दूध में आधा चम्मच हल्दी मिलाकर पीने से खांसी और जुकाम में बहुत आराम आता है. रात को सोने से पहले इसे पीने से तेजी से आराम पहुचता है. हल्दी में एंटी बैक्टीरियल और एंटी वायरल प्रॉपर्टीज मौजूद रहती है जो की इन्फेक्शन से लडती है. इसकी एंटी इंफ्लेमेटरी प्रोपर्टी (anti-inflammatory property) खांसी के लक्षणों में आराम पहुचाती है.

 

  • लहसुन (garlic) या अदरक (ginger) को दूध के साथ उबाले फिर इसमें थोडा हल्दी डालकर पी ले इससे आपके गले को आराम पहुचेगा.

 

  • खांसी और जुकाम को सही करने का एक प्राचीन तरीका यह भी है की पानी को थोडा गर्म करके (lukewarm water) उसमे थोडा नमक और हल्दी डाले और उससे गरारे करे.

 

 

  • अदरक की चाय – यह खांसी और इसके लक्षणों जैसे सर्दी जुकाम, सिरदर्द, मोशन सिकनेस, गले की खराश सही करने का एक प्रभावी तरीका है. अदरक वायरस, germs को खत्म करता है, सुजन को घटाता है, इन्फेक्शन और वायरस से लड़ता है, प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाता है क्योकि इसमें विटामिन सी, मैग्नीशियम, एंटी ऑक्सीडेंट प्रॉपर्टीज मौजूद रहती है.

 

कैसे बनाये अदरक की चाय

अदरक को एक ग्लास पानी में बीस मिनट तक उबाले, फिर उसमे आधा नींबू निचोड़े और दो चम्मच शहद डाले.इससे आपकी अदरक की चाय तैयार हो जायेगी. और उसे सुबह के समय पीये.

 

  • अदरक को टुकड़ो में काटकर उसमे नमक लगाओ और फिर इसे चबाने से सर्दी, जुकाम, खांसी और गले की खराश में आराम पहुँचता है.

 

  • चाय बनाते वक़्त उसमे तुलसी, अदरक और काली मिर्च (black pepper) डालो, ये चाय खांसी और जुकाम में आराम देती है.

 

 

  • अदरक से थोडा जूस निकालकर उसमे तुलसी की थोड़ी पत्तिया पिस दो और उसमे थोडा शहद मिलाकर सेवन करने से भी खांसी को आराम पहुचता है.

 

  • अलसी के बीज (flax seeds) – अलसी के बीजो को उबालकर उसे छान लो. उसमे थोडा नींबू निचोड़कर और उसमे शहद डालकर सेवन करने से खांसी और जुकाम में मदद मिलती है.

 

 

  • अनार के जूस में थोडा अदरक और पिपली का पाउडर डालने से खांसी को आराम मिलता है.

 

  • आधा ग्लास पानी में एक या आधा चम्मच हल्दी, काली मिर्च और दालचीनी पाउडर मिलाये. इसमें दो चम्मच शहद मिलाये इसे पांच मिनट तक उबले और पी ले. यह खांसी और जुकाम में आराम देगा.

 

 

  • आधे चम्मच शहद में थोडा सा नींबू का रस और दाल चीनी पाउडर मिलाकर, खांसी और जुकाम ठीक करने के लिए इसे दिन में दो बार ले.

 

  • अगर खांसी के साथ बलगम भी है तो आधा चम्मच काली मिर्च को देसी घी के साथ मिलाकर खाये.

 

 

  • लहसुन की कलियों को घी में भुन कर गरमा गरम ही खा ले.

 

  • ज्यादा से ज्यादा पेय पदार्थो का सेवन करे चाहे वो चाय हो या पानी.

 

 

  • तुलसी भी खांसी जुकाम को रोकने के लिए प्रभावशाली औषधि है.इसमें एंटीबैक्टीरियल और एंटीऑक्सीडेंट प्रॉपर्टीज मौजूद होती है जो की खांसी और जुकाम का इलाज करती है. तुलसी की पत्तियों (basil leaves) को उबालकर उसका पानी पीये या तुलसी की पत्तियों को चबाने से खांसी और जुकाम में काफी लाभ पहुचता है.

 

 

खांसी जुकाम के लक्षण देखते ही हमें इसका इलाज घरेलू और असरदार नुस्खो से कर लेना चाहिये, ताकि समय रहते ही बीमारी का इलाज कर लिया जाये और खांसी और जुकाम बढे नहीं. इसके इलाज में लापरवाही नहीं बरतनी चाहिये. ये सभी घरेलू नुस्खे प्रभावी है, इनमें से किसी एक नुस्खे को तब तक आजमाकर देखे जबतक की आपको आराम ना आ जाये.

इन घरेलू नुस्खो को भी जरूर पढ़े 

एसिडिटी से छुटकारा पाने के घरेलू नुस्खे

डैंड्रफ/ रूसी से छुटकारा पाने के घरेलू नुस्खे

बालों का झड़ना रोकने के घरेलू नुस्खे

जाने दस्त के लक्षण, कारण और घरेलू इलाज

One Response

  1. Dileep kumar 30/10/2017

Leave a Reply