जानिए कैसे और क्यों किया जाता है सम्मोहन hypnosis in hindi

दोस्तों आपने hypnosis (सम्मोहन) या hypnotism का बारे में films, टीवी serials में सुना या देखा होगा. और यह भी देखा होगा की कैसे कोई इंसान दुसरे को सम्मोहित करके काम करवाता है. यहाँ तक की चोरी से लेकर क्राइम तक करवाता है. लेकिन ये सभी बाते सिर्फ मिथक है. असल में आप hypnosis (सम्मोहन) के माध्यम से दुसरे इंसान को अपने काबू में नहीं कर सकते. hypnosis (सम्मोहन) वशीकरण नहीं है. इसलिए इसके द्वारा आप किसी इन्सान को अपने वश में नहीं कर सकते. जो आप टीवी में hypnosis (सम्मोहन) देखते है वह सिर्फ आपके मनोरंजन के लिए दिखाया जाता है उसका वास्तविकता (reality) से कोई लेना देना नहीं है.

तो क्या है सम्मोहन – what is hypnosis in hindi

हमारे mind (मन) के 3 levels होते है – conscious mind (चेतन अवस्था), subconscious mind  (अर्धचेतन अवस्था) and unconscious mind (अचेतन अवस्था).

जब आप जागरूक होते है, सवाल जवाब करते है, अपने आस पास के बारे में हो रही घटनाओ को अच्छे से समझते है तो उस समय आप चेतन अवस्था में होते है, वही दिन भर में बहुत सी घटनाये, चीजे आपके आस पास होती है लेकिन देख कर भी आप उसे नज़रंदाज़ कर देते है लेकिन याद करके या सोच कर आप उन घटनाओ या चीजो को दुबारा अपने सामने ला सकते है. जैसे सड़क पर चलते हुए आप कितने लोगो और दुकानों को देखते है लेकिन उनपर ध्यान नहीं देते लेकिन आपको सोचने के लिए कहा जाये तो आप बता सकते है की कौन से दुकान कहा थी. यानि दिमाग पर जोर देकर जिन चीजो को याद किया जा सकता है वह आपका subconscious (अर्धचेतन) भाग है.

हमारी बहुत से कडवी यादे, इच्छाएं, डर होते है जिनके बारे में हम सोचने से डरते है और उसे अपने मन में दबा लेते है. यही बाते हमारे मन के अचेतन (unconscious) भाग में चली जाते है जिनके बारे में हमे नहीं पता रहता. जैसे आपके बचपन की कई बाते जिन्हें आपको याद करने के लिए कहा जाये तो आप उसे याद नहीं कर पाते.

hypnosis (सम्मोहन) में इंसान के conscious mind (चेतन अवस्था) को निंद्रा (नींद) अवस्था में लाया जाता है. जब हमारा conscious mind सो जाता है तो कोई भी information सीधे unconscious mind में जा सकती है जो पहले नहीं जा पाती थी. यानि सम्मोहन  वह मनोविज्ञानिक तरीका है जिससे किसी भी इंसान को सुझावों के जरिये  अर्धचेतनावस्था में लाया जाता है जिसे आप समाधि, या स्वप्नावस्था,भी बोल सकते है , लेकिन  hypnotize (सम्मोहित अवस्था) में इंसान की कुछ या सब senses (आँख, कान, नाक ) उसके कंट्रोल में रहती हैं। वह बोलने के साथ साथ, चल और लिख सकता है;  यहाँ तक हिसाब भी लगा सकता है यानी की जो काम वह जागती हुई अवस्था में कर सकता है वह सभी काम वह सम्मोहित अवस्था में भी कर सकता है लेकिन यह सब काम वह सम्मोहनकर्ता (डॉक्टर और therapist या कोई भी ) के सुझाव पर करता है।

इस अवस्था में आप कोई बहस (argument) नहीं कर सकते क्योकि आपकी awareness को alter (बदल) कर दिया जाता है. जिसके कारण आप सम्मोहनकर्ता के सुझावों को मानना शुरू कर देते है.

क्या सभी लोगो को सम्मोहित किया जा सकता है ?

जरुरी नहीं है की हर व्यक्ति एक ही तरीके से hypnotize हो. इंसान की पर्सनालिटी के हिसाब से टेक्निक्स में भी बदलाव किया जाता है. जो इंसान काफी इमोशनल होता है उन्हें आसानी से सम्मोहित किया जा सकता है. जबकि कुछ लोगो को आप चाह कर भी सम्मोहित नहीं कर सकते.

uses of hypnotherapy – क्यों किया जाता है सम्मोहन

सम्मोहन को मनोविज्ञान में एक इलाज़ के तौर पर इस्तेमाल किया जाता है. इसके माध्यम से फोबिया (phobia) यानी की किसी चीज का काफी डर जैसे कुत्तो का डर, अँधेरे से डर, आग का डर, उचाई का डर आदि जैसे डर का इलाज़ किया जाता है.

साथ ही नशे की लत से भी इसके द्वारा छुटकारा पाया जा सकता है. इसके आलावा Habit control (बुरी आदतों से छुटकारा), Pain management (दर्द से छुटकारा), Relaxation, Weight loss (वजन कम करने के लिए) भी सम्मोहन का इस्तेमाल किया जाता है.

Related articles

तो ऐसे जा सकते है आप पिछले जन्म मे – Past life regression

जानिए क्या रूप ले सकती है आपकी दबी हुई इच्छाए


निवेदन ; कृपया इस post को अपने मित्रो के साथ भी शेयर कीजिये और COMMENTS करके बताये की आपको यह post कैसा लगा . आपके COMMENTS हमारे लिए बहुत उपयोगी सिद्ध होंगे. हमारे आने वाले ARTICLES को पाने के लिए नीचे फ्री मे SUBSCRIBE करे।


 

यदि आप भी कोई लेख हमारे साथ शेयर करना चाहते है तो आपका स्वागत है. कृपया अपने लेख हमें whatsknowledge2@gmail.com पर भेजें या contact us पर भेजें. हम आपका लेख आपके नाम और फोटो के साथ publish करेंगे.

 

loading...

NOTE:We try hard for accuracy and correctness. please tell us If you see something that doesn’t look correct or you have any objection.

19 Comments

  1. suraj 06/09/2016
    • Kumar 06/09/2016
    • whats knowledge 09/09/2016
    • Sandeep shrimali 10/12/2016
      • Tameeka Cribb 06/03/2017
  2. KRISHNA KUMAR DINKAR 09/09/2016
    • whats knowledge 09/09/2016
  3. rajiv 09/09/2016
  4. Aakash 16/10/2016
  5. Vijay Kumar vishwakarma 27/11/2016
  6. PAPLU KUMAR 17/12/2016
  7. rajan 13/01/2017
  8. sumit Kumar 06/02/2017
  9. singh 09/02/2017
  10. pankaj kumar 18/02/2017
  11. IJ GAUTAM 20/02/2017
    • Whats knowledge 21/02/2017
  12. Komal 21/07/2017
  13. vivek 27/07/2017

Leave a Reply