BEST TIPS TO IMPROVE MEMORY IN HINDI – जानिए कैसे बढाएं याददाश्त

Memory हमारे जीवन मे कैसे भूमिका निभाती है इस बात से हम सभी परिचित है.  Memory हमारे जीवन मे बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है. बिना Memory के हम कुछ कैसे सीखेंगे. सीखने की योग्यता हमारे जीवन के लिए जरूरी  है. और हम तब तक कुछ नहीं सीख सकते जब तक हमे यह नहीं पता होगा की आखरी बार कही क्या हुआ.

क्या आपने कभी इस वजह से उलझन महसूस की है की जिस जानकार व्यक्ति से आप बात कर रहे थे उसका नाम आपको याद नहीं आ रहा है या  आप चिंतित और  helpless अनुभव कर रहे है जब परीक्षा से एक दिन पहले आपने जो कुछ अच्छी तरह से याद किया वह परीक्षा के दौरान याद नहीं आ रहा था. इसके अलावा हमे बेहद शर्मिंदगी महसूस करनी पड़ती है जब हम कई छोटी बड़ी बातों या वस्तुओ  को भूल जाते है.

हम कौन हैं, हमारे interpersonal relationship को बनाए रखने मे, हमारी समस्याओ  मे तथा निर्णय लेने जैसे कामो मे Memory हमारी हमारी मदद करती है.

अत: अच्छी memory आपको कई सफलता पाने मे मदद कर सकती है. इसी बात को ध्यान मे रखकर हम आपके लिए Memory सुधारने के कुछ Tips लेकर आए है. तो चलिये जानते है की आप अपनी Memory को कैसे सुधार सकते है.

MEMORYG

Memory सुधारने के tips: 

  • THE KEYWORD METHOD – मान लीजिये की आपको English आती है ओर आप किसी अन्य किसी LANGUAGE को सीखना चाहते है तो English का कोई word जिसका sound उस विदेशी या दूसरी भाषा से मिलता जुलता हो, उसकी पहचान कर लीजिये. उदा॰ के लिए अगर आपको Spanish का word pato याद करना है जिसका  मतलब है  duck(ब्त्तख), तो आप English(अँग्रेजी) का pot शब्द ले सकते है। फिर main word pot ओर याद किए जाने वाला word(शब्द) pato, दोनों का एक interaction करते हुए कल्पना कीजिये की एक पानी के बर्तन (pot) मे एक duck (pato, Spanish word) है. Foreign language को सीखने का यह method रटने से अधिक अच्छा है. ओर इससे आप किसी word को लंबे समय तक याद रख सकते है.
  • METHOD OF LOCI (स्थान विधि) – इस METHOD को use करने के लिए याद किए जाने वाले items को पहले visual image की form मे एक जगह पर arrange(व्यवस्थित) कीजिये. Serial order मे items को याद रखने मे यह method उपयोगी (useful) है. इसके लिए पहले उन objects (वस्तुओ) के स्थानो की कल्पना कीजिये जिनके specific sources को आप अच्छे से जानते हो, फिर जिन वस्तुओ को आप याद रखना चाहते है. उन्हे एक-एक स्थान से associate(संबंधित) कीजिये.

उदाहरण के लिए

बाजार जाते समय आपको ब्रैड, अंडा, साबुन खरीदने के लिए याद रखना है तो आप मन मे सोचिए की ब्रैड ओर अंडा रसोई मे, टमाटर मेज पर ओर साबुन बाथरूम मे रखा है। जब आप बाजार पहुचे तो आप अपने kitchen से बाथरूम तक mentally(मानसिक) रूप से चलिये. अब जिन चिजों को खरीदना है उन्हे दोबारा याद करते जाइए।

 

  • CHUNKINGइस method मे कई छोटी छोटी units को मिलाकर एक बड़ा chunk (खंड) बनाया जाता है। उदहारण के लिए agar आपको number की एक series याद करनी है जैसे-198320072011 तो आप 1983, 2007, 2011 के chunk बना सकते है तथा इसे भारत के world cup जीतने के years की form मे याद कर सकते है। एक ओर उदहारण लीजिये जैसे-194719502004 तो आप 1947, 1950, 2004 का chunk बना सकते है। इस chunk को आप इस form मे याद कर सकते है 1947- मे भारत आजाद हुआ, 1950 मे भारत का संविधान लागू हुआ, 2004 मे सुनामी आई थी.
  • First letter technique – इस method को use करने के लिए याद किए जाने वाले हर शब्द के पहले अक्षर को लेकर उससे एक शब्द (word) या वाक्य (sentence) बनाए. उदहारण के लिए rainbow इन्द्रधनुष के रंगो को vibgyor की तरह याद किया जाता है जिसमे v=violet(बैंगनी), i=indigo(जामुनी), B=blue(नीला), g=green(हरा), y=yellow(पीला), o=orange(नारंगी), r=red(लाल)

  • Engage in deep level processing अगर आप किसी सूचना को याद करना चाहते है तो उसे deep level process करे। अगर सूचना के surface feature पर ध्यान देने के बजाए उसके meaning के रूप मे attend किया जाए तो अच्छी memory बनेगी। जितना संभव हो ऐसे प्रश्न पूछे जाए जो उसके अर्थ ओर संबंध से जुड़े हो. इस तरह नयी सूचना आपकी का हिस्सा बन जाएगी.

 

 

 

    • Words को याद करने की etymology technique – यह technique शब्दो के अध्यन, उनकी उत्पत्ति और उनका विकास पर आधारित है. इसमे आप ROOT words के बारे मे सीखेंगे. English language के कई शब्द root words से बने है. ये root word ज़्यादातर लेटिन ओर ग्रीक भाषा से ही निकले है. जैसे- motivation word लेटिन word movere, जिसका मतलब “to move” है से निकला है. Motivation is what “moves” people to do the things they do. इसी प्रकार EGOCENTRIC-SELF CENTERED ROOT WORD EGO- I/SELF से बना है.इस technique से आप words को लंबे समय तक याद रख सकते है. LEARN MORE

 

 

    • Words को याद करने की mnemonic technique – इस technique से आप अपनी memory improve कर सकते है. यह technique आपको स्पष्ट तथ्यो(facts) ओर शब्द की संरचना याद रखने मे मदद करती है. यह technique याद की जाने वाली चीजों तथा उसके इर्द-गिर्द images की रचना करती है. यह technique words को याद करने के लिए LINKING और VISUALIZATION का प्रयोग करती है अर्थात याद किए जाने वाले शब्द को उस WORD के साथ LINK कीजिये जो आपके दिमाग मे पहले से ही स्टोर है. जैसे

 

 

Mirth: merriment; laughter शब्द याद करने के लिए इस MNEMONIC का प्रयोग कर सकते है

 

MNEMONICS

 

Mother at birth of her child is extremely happy. Mother at birth = mirth.

 

Jeopardize: endanger

 

Mnemonic-Sounds like leopard…leopard r now ENDANGERED species.

 

अंत मे आपकी अपनी memory को सुधारने के लिए आपको कई factors की ओर ध्यान देना होगा जो आपकी memory को प्रभावित करते है. जैसे, आपका स्वास्थ्य, आपकी रुचि, याद की जाने वाली सूचना से आपका परिचय इत्यादि.

 

ETYMOLOGY TECHNIQUE के बारे मे ओर पता करे

अगर आपको ये article अच्छा लगा है तो आप इसे like करे और अपना comment भी दे

loading...

3 Comments

  1. Yishu 06/11/2015
  2. kumar 31/10/2016
  3. Arjun 25/02/2017

Leave a Reply