how to achieve more in less time

time management जीवन मे सफलता की कुंजी है। यही वह चीज है जो सफल और असफल लोगो के बीच अंतर पैदा करती है। हम सब को दिन मे 24 घंटे मिलते है किसी को भी एक दिन मे 24 घंटे से ज्यादा नहीं मिलता, लेकिन ऐसा क्यो है की कुछ लोग अन्य लोगो की तुलना मे जीवन मे ज्यादा कामयाबीया और सफ़लताए प्राप्त करते है। उत्तर छिपा है उचित समय प्रबंधन (proper time management) मे। इस लेख मे हम इसी के बारे मे चर्चा करेंगे की क्या है उचित समय प्रबंधन और जीवन मे इसके द्वारा क्या क्या पाया जा सकता है।

क्या है उचित समय प्रबंधन

किसी विशेष काम को कितना समय देना है इसकी योजना बनाना और उसे निर्धारित समय मे पूरा करना।

 

लोग असफल क्यो हो जाते है।

दिन मे बेकार और फालतू के कामो मे समय बरबाद करने वाले जीवन मे बहुत कम achieve कर पाते है क्योकि वे अपना ध्यान बहुत से कामो के बीच बाँट देते है, इस कारण से वह अपना काम निर्धारित समय मे पूरा नहीं कर पाते, इसके चलते वे काम पर से अपना focus खो देते है, इस से अपने ऊपर से भरोसा कम होने का भय बन जाता है।

 

उचित समय प्रबंधन के गुण (merits of proper time management)

  • इसके द्वारा आप अपने कामो को निर्धारित समय मे पूरा कर सकेंगे।

 

  • काम ज्यादा smart तरीके से पूरे होंगे तथा कामो मे कम कठिनाई पेश आएगी।

 

  • आप कार्यो को पूरा करने मे ज्यादा focus ला पाएंगे।

 

  • कम समय मे ज्यादा प्राप्त कर पाएंगे।

 

उचित समय प्रबंधन के मार्ग मे आने वाली बाधाए

समय प्रबंधन के मार्ग मे अनेक रुकावटे आ सकती है। यह अलग अलग व्यक्ति के जीवन मे अलग अलग हो सकती है जैसे tv  देखना, फोन कॉल, फोन पर घंटो बाते करते रहना। इसके अलावा काम के बीच कई और तरीके के खलल भी पड़ सकते है जो आपका ध्यान अपने कार्य पर से हटा दे जैसे- पढ़ते वक़्त कोई दूसरा बातचीत लेकर बैठ जाये तो आप भी उसके साथ गप्पे मारने लग जाए, ऑफिस मे काम करते वक़्त कोई साथी बात करके या अन्य किसी गतिविधि द्वारा आपका ध्यान अपने काम पर से हटा दे। ऐसी चीजे काम के दौरान आपका ध्यान भंग करती है। हालांकि ये बाधाए छोटी सी होती है लेकिन ये आपका कार्य पर से focus हटा देती है और आपको दोबारा काम शुरू करने के लिए दोबारा  अपने दिमाग को  उस गतिविधि से जोड़ने के लिए समय खर्च करना पढ़ता है। अगर कार्य जटिल हो तो ऐसे कामो के दौरान आपको दोबारा अपने दिमाग के साथ तालमेल बैठने मे दिक्कत होती है और कार्य को पूरा करने के लिए निर्धारित समय से ज्यादा समय लग सकता है। अगर आप  उचित समय प्रबंधन का पालन करे तो ये आपको किसी खलल के दौरान सोचने पर मजबूर कर देगा और दोबारा काम की ओर खीच लाएगा।

 

कैसे किया जाये उचित समय प्रबंधन

अब प्रश्न उठता है की उचित समय प्रबंधन की योजना को कैसे पूरा किया जाए।

  • एक दिन के भीतर आपको क्या क्या करना है और उसे कितने समय मे पूरा करना है इसकी योजना (plan) बना कर

 

  • योजना को निर्धारित समय मे पूरा करने की कोशिश करना

 

  • योजना के दौरान आने वाली रुकावटों के प्रति सचेत रहना

 

  • इन रुकावटों को नियंत्रित करने की कोशिश करना

 

कैसे किया जाए इन रुकावटों को नियंत्रित

 

उचित समय प्रबंधन की योजना मे आने वाली रुकावटों को नियंत्रित करने के लिए ये जानना जरूरी है की ये रुकावटे क्या है और क्या वे आवश्यक है। अगर ये आवश्यक नहीं है तो इन्हे छोड़ने का विकल्प ज्यादा बेहतर साबित होगा।

अगर आपको ये लेख पसंद आया तो इसे अपने दोस्तो के साथ भी शेयर करे। आगे के लेख प्राप्त करने के लिए हमे subscribe करे। subscription is free of cost so please subscribe us and like our fb page।

recommended posts

मन के हारे हार है Failure is simply the opportunity to begin again

ज़िंदगी जीने का नजरिया बताता cup

power of optimism – अंधेरे मे रोशनी का प्रतीक

 

 

Did you enjoy this article?
सभी नए Posts अपनी E-Mail पर तुरंत पाने के लिए यहाँ अपनी E-mail ID लिखकर Subscribe करें। कृपया यहाँ Subscribe करने के बाद अपनी E-mail ID खोलें तथा भेजे गये वेरिफिकेशन लिंक पर क्लिक करके वेरीफाई करें।
WHATSKNOWLEDGE .COM का WHATSAPP GROUP JOIN करे और पाए सभी आर्टिकल्स सीधे मोबाइल पर हमें WHTASAPP करे 7065908804 पर और लिखे Add me to whatsknowledge group
2 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *