जानिए Vitamin B Complex कमी से आपकी Health को क्या खतरे हैं

Healthy रहने के लिए हम हमेशा Balance Diet अपनाने की कोशिश करते हैं, लेकिन फिर भी कई बार हमारे खाने में कोई न कोई कमी रह ही जाती है, जिसकी वजह से सेहत संबंधी कई समस्याएं हमें परेशान करने लगती हैं। शरीर को healthy रूप से चलाने में vitamins की बहुत जरूरी भूमिका होती हैं। सभी vitamins मे सबसे जरूरी विटामिन है Vitamin B Complex. Vitamin B Complex एक ऐसा तत्व है, जो दिमाग और nervous system को सही से काम करने में मदद करता है। इसकी कमी हमारी health के लिए बड़े स्तर पर नुकसानदेह साबित हो सकती है।

Vitamins एक तरह के रसायन होते है। अगर खाने मे कोई vitamins न लिया जाए तो इसकी कमी से अनेक बीमारिया हो सकती है। Vitamin B Complex मे 8 vitamins होते है। पहले इनको एक ही विटामिन सोचा जाता था लेकिन बाद मे रिसर्च मे पाया गया की यह रसायनिक रूप से अलग अलग होते है। आजकल इन्हे विटामिन बी कॉम्पलेक्स कहा जाता है।

Vitamin B Complex 8 types के होते है

1) vitamin B1 – इस विटामिन को thiamin(थायमीन) भी कहते है। इसका स्वाद नमकीन होता है। यह रंघिन होता है। इस विटामिन की कमी से कब्ज की शिकायत,चक्कर आना,आंखो मे अंधेरा छा जाना,चिड़चिड़ा हो जाना,एकाग्रता का न होना व झगड़ालू हो जाना जैसे लक्षण दिखाई देते है। इसकी कमी से बेरी बेरी नाम की बीमारी हो जाती है।

Source; यह विटामिन गेहूँ,मूँगफली,हरे मटर,संतरे,खमीर,अंडे,हरी सब्जियाँ,चावल और अंकुर वाले बीजों मे पाया जाता है।

2) vitamin B2 – इस विटामिन को Riboflavin भी कहा जाता है।  यह विटामिन पीले रंग का होता है। यह विटामिन सूरज की रोशनी(sunlight) और खाने को अधिक पकाने से समाप्त हो जाता है। शरीर मे इस विटामिन की कमी से मुँह और होठ फटने लगते है। यह vitamin आंखो,नाक और जीभ को स्वस्थ रखने के लिया अति आवश्यक है।

Source; यह विटामिन अंडे की ज़र्दी, मछ्ली,दालों,मास,मटर,चावल व खमीर मे पाया जाता है।

3) vitamin B3 – इस विटामिन को Pantothenic भी कहा कहा जाता है। यह विटामिन शरीर की वृद्धि मे सहायक होता है। यह विटामिन लोगो के सलेटी रंग के बाल होने से बचाता है।

Source; यह विटामिन दूध मे सबसे ज्यादा पाया जाता है। इसका अलावा यह अंडे की ज़र्दी,मेवा व अखरोट मे भी पाया जाता है।

4) vitamin B5 – इस विटामिन को Nicotinamide भी कहा जाता है। इस विटामिन की कमी से पैलेग्रा (Pellagra) रोग हो सकता है। यह विटामिन हमारे weight को control करने मे मदद करता है।

Source; यह विटामिन खमीर,दूध,मक्खन,पिस्ता और दाल मे पाया जाता है।

5) vitamin B6 – यह विटामिन हीमोग्लोबिन के निर्माण मे मदद करता है। यह विटामिन त्वचा को भी स्वस्थ रखता है।

Source; यह विटामिन मांस,मछ्ली,खमीर,अंडे की ज़र्दी,चावल,गेहूँ व मटर मे पाया जाता है।

6) vitamin B7 – इसका रसायनिक नाम Biotin है। इसकी कमी से depression, हो सकता है।

Source; बाजरा, ज्वार, मैदा, चावल, सोयाबीन, गेहूं,

7) vitamin B9 – यह विटामिन पीले रंग का स्वादहीन और रंगहीन होता है। भोजन को पकाते वक्त इस vitamin की ज़्यादातर मात्रा समाप्त हो जाती है। यह विटामिन खून के निर्माण मे मदद करता है।

Source; अंकुरित अनाज, दलिया, मटर और मूंगफली

8) vitamin B12 – यह विटामिन लाल रंग का होता है। खाने को ज्यादा पकाते वक्त यह विटामिन नष्ट हो जाता है। इस विटामिन की कमी से अनीमिया रोग हो सकता है। साथ ही इस विटामिन की कमी से नसों मे blockage, बहुत ज्यादा थकान और सर्दी,depression, तनाव और memory भी कमजोर हो सकती है।

Source; मांस, मछ्ली और अंडो मे यह विटामिन काफी मात्रा मे पाया जाता है।

यदि आपके शरीर में इन vitamins की कमी है तो फिर यह कमी आपकी health लिए खतरनाक हो सकती है। इसलिए अपनी Diet मे Vitamin B Complex के source प्रचुर मात्रा मे लें।

अगर आपको यह article useful लगा हो तो इसे जरूर share कीजिये। और अपनी विचार comments के माध्यम से जरूर बताए।आगे के पोस्ट प्राप्त करने के लिए हमे नीचे दिये हुए बॉक्स से free subscribe करे और हमारा facebook page like करना ना भूले।

must read

एक अजीब गरीब दिमागी बीमारी – Bulimia nervosa

एक नजरंदाज दिमागी बीमारी – Eating Disorder in Hindi

दिमाग के कुछ रोचक तथ्य – Amazing facts about human brain

Did you enjoy this article?
सभी नए Posts अपनी E-Mail पर तुरंत पाने के लिए यहाँ अपनी E-mail ID लिखकर Subscribe करें। कृपया यहाँ Subscribe करने के बाद अपनी E-mail ID खोलें तथा भेजे गये वेरिफिकेशन लिंक पर क्लिक करके वेरीफाई करें।
WHATSKNOWLEDGE .COM का WHATSAPP GROUP JOIN करे और पाए सभी आर्टिकल्स सीधे मोबाइल पर हमें WHTASAPP करे 7065908804 पर और लिखे Add me to whatsknowledge group
One Comment

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *