एकाधिक व्यक्तित्व विकार (mpd) के बारे में जाने

MULTIPLE PERSONALITY DISORDER (MPD) हिंदी में इसे एकाधिक व्यक्तित्व विकार कहते है. हम पहले भी इसपर एक आर्टिकल अपने ब्लॉग पर पब्लिश कर चुके है. इंग्लिश में पढने के लिए इस लिंक पर क्लिक करे.

Do you know about multiple personality disorder

क्या है एकाधिक व्यक्तित्व विकार (MULTIPLE PERSONALITY DISORDER-mpd)

एकाधिक व्यक्तित्व विकार (MULTIPLE PERSONALITY DISORDER) को dissociative identity disorder भी कहते है. पहले लोगो का मानना था की जिस व्यक्ति में आत्मा का वास (spirit possession) होता है वह इस विकार से पीड़ित है. लेकिन 19वी शताब्दी में इसे एक psychological disorder मान लिया गया.

एकाधिक व्यक्तित्व विकार (MULTIPLE PERSONALITY DISORDER) में एक व्यक्ति अपनी असली पहचान छोड़कर दूसरा आदमी बन जाता है यानी की एक से ज्यादा पर्सनालिटी (जिसे पहले आत्मा कहा जाता था) विकसित कर लेता है. हर पर्सनालिटी का व्यवहार, आवाज का लहजा और शारीरिक शैली अलग अलग होती है. लेकिन इसका यह मतलब नहीं है की हर अलग पर्सनालिटी एक अलग आत्मा है.

कुछ साल पहले आई बॉलीवुड फिल्म भूल भुलैया में जिसे MULTIPLE PERSONALITY DISORDER का नाम दिया गया असल में वह यह बीमारी नहीं है. उसे spirit possession या demonic possession कह सकते है. इस रोग का किसी भी तरह की religious practice (धार्मिक अनुष्ठानों) या काला जादू (black magic) से भी कोई लेना देना नहीं है.

यह डिसऑर्डर फिल्मो और नोवेल से बहुत प्रसिद्ध हुआ – जैसे sybill और The Three Faces of Eve‖. भारत की एक प्रसिद्ध फिल्म अपरिचित में भी इसे प्रदर्शित किया गया.

 

 

MULTIPLE PERSONALITY DISORDER की विशेषताए

कई पर्सनालिटी एक ही शरीर में रहती है जो 2,5 या 100 भी हो सकती है.

महिलाओ में यह विकार पुरुषो की तुलना में अधिक पाया जाता है

इस विकार की शुरुआत बचपन से ही शुरू हो जाती है, अक्सर 6 वर्ष की आयु से .

ज्यादातर मामलो में रोगी को अपनी multiple personalities (एकाधिक व्यक्तित्व) के बारे में पता नहीं होता.

 

MULTIPLE PERSONALITY DISORDER के कारण

बचपन में घटी कोई अघातीय घटना – यह पाया गया है की जिन व्यक्तियों को एकाधिक व्यक्तित्व विकार होता है उनके साथ बचपन में कोई यौन एवम शारीरिक शोषण जैसी घटना घटी होती है. इनमे से ज्यादातर महिलाये होती है.

सामाजिक समर्थन की कमी – जिन व्यक्तियों के साथ व्यक्तिगत और सामाजिक समर्थन की कमी होती है वे एकाधिक व्यक्तित्व विकार (MPD) को विकसित कर लेते है.

डर को मन में में दबा लेने , अनचाहे या अस्वीकार्य विचार और व्यवहार भी एकाधिक व्यक्तित्व विकार के कारण है

दुसरे कारण- अपराध की अत्यधिक भावना, परेशान करने वाले अनुभवो और विचारो को सोचते वक़्त शर्म और चिंता का अनुभव करना एकाधिक व्यक्तित्व विकार के लक्षणों को मजबूत करने में मदद करता है.

 

MULTIPLE PERSONALITY DISORDER का इलाज़

मनोविज्ञानिक तरीके जिस psychotherapy कहा जाता है –  से इस बीमारी का इलाज़ संभव है. hypnosis के माध्यम से भी इसे सही किया जा सकता है. जैसा की हमने आपको बताया की तनाव इस बीमारी का मुख्य कारण है. इसलिए जितना हो सके रोगी तनावमुक्त रहे.

 

you can also read

बाइपोलर डिसआर्डर क्या है – bipolar disorder in hindi

क्या आप Alzheimer के बारे मे जानते है – Alzheimer Disease in hindi

कहीं आपका डर Phobia तो नहीं बन गया – PHOBIA A TO Z

 


निवेदन ; कृपया इस post को अपने मित्रो के साथ भी शेयर कीजिये और COMMENTS करके बताये की आपको यह post कैसा लगा . आपके COMMENTS हमारे लिए बहुत उपयोगी सिद्ध होंगे. हमारे आने वाले ARTICLES को पाने के लिए नीचे फ्री मे SUBSCRIBE करे।


 

यदि आप भी कोई लेख हमारे साथ शेयर करना चाहते है तो आपका स्वागत है. कृपया अपने लेख हमें whatsknowledge2@gmail.com पर भेजें या contact us पर भेजें. हम आपका लेख आपके नाम और फोटो के साथ publish करेंगे.

 

NOTE:We try hard for accuracy and correctness. please tell us If you see something that doesn’t look correct or you have any objection.

 

Did you enjoy this article?
सभी नए Posts अपनी E-Mail पर तुरंत पाने के लिए यहाँ अपनी E-mail ID लिखकर Subscribe करें। कृपया यहाँ Subscribe करने के बाद अपनी E-mail ID खोलें तथा भेजे गये वेरिफिकेशन लिंक पर क्लिक करके वेरीफाई करें।
WHATSKNOWLEDGE .COM का WHATSAPP GROUP JOIN करे और पाए सभी आर्टिकल्स सीधे मोबाइल पर हमें WHTASAPP करे 7065908804 पर और लिखे Add me to whatsknowledge group
One Comment

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *