Struggles In Life – Motivational Story in Hindi

हम मे से ज़्यादातर लोग अपने मन में चल रहे नकरात्मक विचारों से परेशान रहते हैं जिसका हमारे ज़िंदगी पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है. ये विचार एक सफल व्यक्ति को एक असफल व्यक्ति से अलग करते हैं.

कभी कभी हम मुश्किलों(problems) से इस कदर घिर जाते हैं कि हमें अपने चारो तरफ कुछ दिखाई नहीं देता है। बस हर तरफ मुश्किल ही मुश्किल दिखाई देती हैं | जो लोग इन मुश्किलो और रुकावटों के सामने थक जाते है और  हार मान लेते हैं वो मुश्किलों और रुकावटों के तूफ़ान में ही फँस जाते हैं और आगे नहीं बढ़ पाते हैं | और जो लोग बिना हारे,  इन चुनोतीयो का सामना करते है  और  आगे बढ़ते रहते है वे मुश्किलों और रुकावटों के तूफ़ान से बाहर निकल आते हैं और अपनी ज़िंदगी में आगे बढ़ते जाते हैं |.

आज हम आपके साथ एक motivational story in Hindi(प्रेरणादायक कहानी) शेयर करने जा रहे है। यह कहानी उन लोगो के लिए बहुत प्रेरणादायक (inspirational) है जो चुनोतिओ(Struggles), मुश्किलों और नकरात्मक विचारो से परेशान है और इस समय अपनी ज़िंदगी के मुश्किल दौर से गुजर रहे हैं

Struggles of life – a motivational story in Hindi

एक बार एक बच्ची अपने पिता से शिकायत करती है की उसकी ज़िंदगी मुश्किलों से भरी हुई है और वह नहीं जानती की वो इनसे कैसे छुटकारा पाएँ। वह चुनोतिओ के सामने संघर्ष करते करते थक गयी है। एक मुश्किल सुलझती है तो दूसरी मुसीबत आ जाती है। उसके पिता उसे kitchen मे ले जाते है और तीन बर्तनो मे पानी भरकर उन्हे उबलने रख देते है।

जब तीनों बर्तनो मे पानी उबालना शुरू हो जाता है तो वो एक बर्तन मे आलू, एक बर्तन मे अंडा, और एक बर्तन मे कॉफी के दाने डाल देते है। और अपनी बेटी से बिना कुछ बोले बैठ जाते है। लड़की भी बिना कुछ सवाल किए शांति से इंतजार करती है। 20 मिनट के बाद वो गैस को बंद कर देते है। फिर आलू को निकालकर एक कटोरी मे रख देते है। इसी तरह अंडे को भी एक कटोरी मे निकालकर रख देते है। और फिर कॉफी को एक कप मे डाल देते है।

इसके बाद अपनी बेटी से पूछते है की उसने क्या देखा? और उसे दोनों चीजों को छूने के लिए कहते है।

वह आलू को छूती है और बताती है की यह नर्म है।

इसके बाद वो अपने पिता से इन सब काम के पीछे का मतलब पूछती है। तो वह अपनी बेटी को अंडा लेकर तोड़ने के लिए कहते है, वह अंडे को तोड़कर उसका छिलका उतारती है और उसमे उबला अंडा पाती है, आखिर मे पिता अपनी बेटी को कॉफी की चुस्की लेने को कहते है, कॉफी की सुगंध से बेटी के चहरे पर मुस्कान आ जाती है, वह अपने पिता से इसका मतलब पूछती है?

 

तब वह अपनी बेटी को बताते है की  आलू, अंडा और चाय तीनों उबले हुए पानी की प्रक्रिया से गुजरते है फिर भी तीनों अलग अलग प्रतिक्रिया देते है। आलू जो मजबूत और कठोर होता है उबले हुए पानी मे जाकर हल्का और कमजोर हो जाता है। अंडा भी कमजोर होकर टूटने योग्य हो जाता है।  उबले पानी मे जाने से पहले इसकी बाहरी परत इसके अंदर छिपे द्रव्य की रक्षा करती है। उबले पानी मे जाकर यह द्रव्य कठोर होकर उबला अंडा बन जाता है, लेकिन कॉफी के दाने अनोखे है उबले पानी मे जाकर यह यह पानी का रंग बदल देते है और कुछ नया पैदा करते है।

 

तुम इनमे से कौन हो । वह अपनी बेटी से पूछते है, जब मुश्किले आपके दरवाजे को खटखटायेँ तुम उनके लिए क्या प्रतिक्रिया दोगी। तुम कौन हो आलू, अंडा, या कॉफी के दाने

motivational story in hindi

” The same boiling water that softens the potatoes hardens the egg it’s about what you are made of, not the circumstances ”

मुश्किले दिल के इरादे आजमाती है, स्वप्न के परदे निगाहों से हटाती है

हौसला मत हार गिर कर ओ मुसाफिर! ठोकरे इंसान को चलना सिखाती है

अगर आपको यह article उपयोगी लगा हो तो कृपया इसे अपने दोस्तो के साथ शेयर कीजिये। आप अपनी राय, सुझाव या विचार हमे comments के माध्यम से जरूर भेजे।

Read more motivational story in Hindi

बुलंद होसलों की कहानी- best motivational story in Hindi

अपने talent को पहचाने – best inspirational story in Hindi

MOTIVATIONAL STORY OF EDWIN C. BARNES IN HINDI: POWER OF THOUGHTS

जानिए क्या है आपकी मंजिलों मे speed breaker

क्या आप सफल होना चाहते है! भागो मत जागो

Did you enjoy this article?
सभी नए Posts अपनी E-Mail पर तुरंत पाने के लिए यहाँ अपनी E-mail ID लिखकर Subscribe करें। कृपया यहाँ Subscribe करने के बाद अपनी E-mail ID खोलें तथा भेजे गये वेरिफिकेशन लिंक पर क्लिक करके वेरीफाई करें।
WHATSKNOWLEDGE .COM का WHATSAPP GROUP JOIN करे और पाए सभी आर्टिकल्स सीधे मोबाइल पर हमें WHTASAPP करे 7065908804 पर और लिखे Add me to whatsknowledge group
One Comment

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *