तो ऐसे जा सकते है आप पिछले जन्म मे – Past life regression

Incarnation यानि की पुनःजन्म को medical science हमेशा से खारिज करती आई है लेकिन मनोविज्ञान की एक शाखा paranormal psychology के अनुसार हर इंसान का पुनःजन्म होता है और हमारे पिछले जन्म की बहुत सी घटनाएँ हमारी इस ज़िंदगी (present life) को भी काफी हद तक प्रभावित करती है। इंसान की इस ज़िंदगी की बहुत सी मानसिक और शारीरिक बीमारियों के तार उसके पिछले जन्म से जुड़े होते है। जैसे की कई लोगो को जन्म से ही अंधेरे से डर लगता है तो कई लोगो को पानी से और उचाई से। इसके अनुसार किसी इंसान की पिछली जन्म मे हुई अकाल मृत्यु अगले जन्म मे डर पैदा करने का सबसे बड़ा कारण है। इसके अलावा कई तरह के दर्द जो इलाज़ से ठीक नहीं हो पाते उनका संबंध और कारण इंसान के पिछले जन्म से हो सकता है। पिछले जन्म मे दुर्घटना से हुई पीड़ाए और तकलीफ़े उस इंसान के अगले जन्म मे भी पीछा नहीं छोड़ती अगर उसका निवारण पिछले जन्म मे नहीं हो पाया हो।

इंसान के अधिकतर लगाव और talent बचपन से ही पता चल जाते हैं. ये सब हमारे पिछले जन्म की विशेषताएं हो सकती हैं।

Past Life Regression एक ऐसा ही मनोवैज्ञानिक तरीका है जिसमे किसी भी इंसान को hypnosis (सम्मोहन) के जरिये उसकी बीती ज़िंदगी की यादों (memories) मे ले जाया जा सकता है। इस पद्धति का वर्णन भारतीय उपनिषदो मे काफी पहले किया जा चुका है लेकिन अब इस पर अमेरिका और यूरोप में अनेक researches हो रही हैं और वहां इस Technique को बहुत बड़े स्तर पर अपनाया जा रहा है. अमेरीकन मनोचिकित्सक Dr. Brian  Weiss ने इस थेरेपी (Therapy) पर काफी शोध किए है और इसे एक नया रूप दिया है जिसे पूरी दुनिया मे इस्तेमाल किया जाता है।

Past life regression (PLR) therapy के जरिये न सिर्फ किसी इंसान के पिछले जन्म की घटनाओ तक पहुचा जा सकता है बल्कि catharsis नाम की मनोवैज्ञानिक पद्धति के द्वारा कई दिक्कतों से छुटकारा पाया जा सकता है। Past life regression की प्रक्रिया मे इंसान को चेतना अवस्था मे परिवर्तन किया जाता है। चेतना की इस अवस्था मे इंसान की सुझाव ग्रहण करने की क्षमता मे एकदम से तेजी आ जाती है और वह सुझावो पर अमल भी करने लगता है। इसमे समोहन के जरिये पिछले जन्म की घटनाओ को भी याद कराया जाता है। इसका उदेश्य इंसान के present problems तक पहुचना होता है जैसे की कोई डर, relationships मे दिक्कत, कोई बीमारी । उस घटना तक पहुचकर catharsis के माध्यम से इंसान को उससे जुड़ी दिक्कत को वही छोड़ने की command दी जाती है। इससे इंसान उस पीड़ा, दिक्कत या डर से छुटकारा पा लेता है।

Past life regression एक बहुत ही सुरक्षित मनोचिकित्सा है। इसमे किसी भी बेहोशी की दवाई या किसी भी प्रकार के chemical का इस्तेमाल नहीं किया जाता है।

अगर आपको यह article उपयोगी लगा हो तो कृपया इसे अपने दोस्तो के साथ शेयर कीजिये। आप अपने questions हमे comments के माध्यम से भेज सकते है.

आगे के पोस्ट प्राप्त करने के लिए हमे subscribe करे और हमारा facebook page like करना ना भूले।

यह भी पढे

IQ TEST – जानिए कितना है आपका IQ

क्या होता है EQ – जानिए अपना Emotional Quotient

Did you enjoy this article?
सभी नए Posts अपनी E-Mail पर तुरंत पाने के लिए यहाँ अपनी E-mail ID लिखकर Subscribe करें। कृपया यहाँ Subscribe करने के बाद अपनी E-mail ID खोलें तथा भेजे गये वेरिफिकेशन लिंक पर क्लिक करके वेरीफाई करें।
WHATSKNOWLEDGE .COM का WHATSAPP GROUP JOIN करे और पाए सभी आर्टिकल्स सीधे मोबाइल पर हमें WHTASAPP करे 7065908804 पर और लिखे Add me to whatsknowledge group
3 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *