जानिए क्या कहते है आपके सपने – सपनो का मनोविज्ञान

हम सभी लोग सपने (dream)  देखते है. कुछ सपने अच्छे होते है तो कुछ डरावने. इस तरह से सपने हम सब की जिन्दगी का एक भाग होता है जिसके बारे में जानने की उत्सुकता हम सभी लोगो में हमेशा बनी रहती है. प्राचीन समय से ही विशेषज्ञों, दार्शनिको और लेखको ने सपनो (dream)  के रहस्यों और स्वरूपों को समझने की कोशिश की और अपने अपने मत दिए. पहले लोगो का मानना था की सपनो का स्वरुप (nature) supernatural यानि की अलोकिक होता है. सपनो के समय आत्मा शरीर से अलग होकर घुमती है. इस अवस्था (situation) में हमारी आत्मा जो कुछ सुनती या देखती है वही घटना सपने कहलाते है. कही लोगो का मानना था की सपने भविष्य में होने वाली घटनाओ को दिखाते है.

 

लेकिन धीरे धीरे कुछ दार्शनिको ने सपनो के स्वरुप का गहराई से अध्यन किया और अपना मत दिया. इन्ही में से एक है sigmud freud. इन्होने अपने मनोविज्ञानिक विश्लेषणों के आधार पर बताया की हर सपने (dream)  का एक मतलब होता है. इनके अनुसार सपने हमारी दबी हुई इच्छाओ को खुल कर प्रकट करने में मदद करते है. सपनो (dream)  में वह सभी दबी हुई इच्छाए प्रकट होती है जो अनेतिक, असामाजिक और कामुक (sexual) होने की वजह से इंसान अपने मन में दबा कर रखता है.  यही इच्छाए रूप बदलकर नींद में प्रकट होती होती है. इसके अनेको उदहारण हम रोजाना महसूस कर सकते है. एक बच्चा जो तरह तरह की मिठाइयो को खाना चाहता है लेकिन किसी भी कारण से खा नहीं पाता, अक्सर सपने (dream)  में देखता है की  वह किसी दुकान या पार्टी में तरह तरह की मिठाइयो को खा रहा है.

 

कई मनोविज्ञानिको के अनुसार सपनो में हम उन चीजो को देखते है जो हम असल जिन्दगी में करना चाहते है लेकिन कर नहीं पाते. वही चीजे सपना बनकर हमारे सामने आती है.

 

मनोविज्ञान के अनुसार सपने (dream)  कई तरह के होते है ;

 

Anxiety dreams – इस तरह के सपनो में इंसान काफी डर जाता है और नींद खुल जाती है. इस तरह के सपने उन लोगो को ज्यादा आते है जो काफी emotionally disturbed होते है और परेशान रहते है.

 

prophetic dreams – ऐसे सपनो में इंसान को भविष्य (future) में होने वाली घटना का संकेत मिलता है. ऐसा कई बार देखने को मिला है की कई लोगो के देखे हुए सपने आगे चल कर सच हो जाते है लेकिन इनके कारणों का कोई मनोविज्ञानिक या scientific proof नहीं है. ऐसे सपने उन लोगो को ज्यादा आते है जो ज्यादा पूजा पाठ करते है.

 

resolution dreams – ऐसे सपनो में लोग अपनी समस्याओ विशेषकर मैथ्स के मुश्किल सवालो को हल करते देखते है. इस तरह के सपनो में लोगो को उनकी प्रोब्लम्स के solution नींद में मिलते है. ऐसे सपने उन लोगो को ज्यादा आते है जो काफी ज्यादा सोचते है और intellectual होते है.

 

kinesthetic dreams – ऐसे सपनो में लोग अपने आप को तैरते, गाते , रोते और उड़ते हुए देखते है. ऐसे सपने उन लोगो को ज्यादा आते है जो ज्यादा imaginative होते है.

 

protest dreams – इस तरह के सपनो में इंसान सामाजिक मान्यताओ को तोड़ता है और विरोध प्रकट करता है. ऐसे सपने आम तोर पर उन लोगो को ज्यादा आते है जो किसी समस्या को लेकर विरोध प्रकट करना चाहते है लेकिन कर नहीं पाते.

 

Lucid dreaming – इया तरह के सपनो में इंसान को नींद में भी पता होता है की वह  सपना देख रहा है. ऐसे लोगो का अपने सपनो पर नियंत्रण होता है. ऐसे सपने उन लोगो को ज्यादा आते है जिकन अपने आप पर कंट्रोल होता है.

 

Read more

INTERESTING PSYCHOLOGICAL FACTS ABOUT DREAMS

 


निवेदन ; कृपया इस post को अपने मित्रो के साथ भी शेयर कीजिये और COMMENTS करके बताये की आपको यह post कैसा लगा . आपके COMMENTS हमारे लिए बहुत उपयोगी सिद्ध होंगे. हमारे आने वाले ARTICLES को पाने के लिए नीचे फ्री मे SUBSCRIBE करे।


 

यदि आप psychology, motivation, inspiration और stories से संबंधित कोई लेख हमारे साथ शेयर करना चाहते है तो आपका स्वागत है. कृपया अपने लेख हमें whatsknowledge2@gmail.com पर भेजें या contact us पर भेजें. हम आपका लेख आपके नाम और फोटो के साथ publish करेंगे.

 

NOTE:We try hard for accuracy and correctness. please tell us If you see something that doesn’t look correct or you have any objection.

Did you enjoy this article?
सभी नए Posts अपनी E-Mail पर तुरंत पाने के लिए यहाँ अपनी E-mail ID लिखकर Subscribe करें। कृपया यहाँ Subscribe करने के बाद अपनी E-mail ID खोलें तथा भेजे गये वेरिफिकेशन लिंक पर क्लिक करके वेरीफाई करें।
3 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *