क्या भारतीय नहीं है आपका पसंदीदा समोसा samosa history in hindi

samosa (समोसा) एक ऐसा भारतीय पकवान है जिसे किसी पहेचान की जरुरत नहीं है. चाहे गावं हो या शहर समोसे बड़े की चाव के साथ पकाए और खाए जाते है. हर गली महोले के कोने में आपको गर्म गर्म समोसे तलती कोई न कोई दुकान या रेहड़ी दिखती ही होगी. सर्दियों का मौसम है तो नाश्ते में चाय के साथ समोसा मिल जाये तो क्या कहने. अब तो विदेशो में भी इस भारतीय डिश की डिमांड बहुत तेजी से बढ़ रही है. लेकिन क्या आप जानते है की भारत की सबसे लोकप्रिय डिश समोसे की शुरुआत की शुरुआत कब और कहाँ से हुई?? सबसे पहली बार samosa (समोसा) कहाँ बना?? तो आज इस पोस्ट में हम आपको समोसे से जुडी सभी रोचक जानकारी देंगे और साथ ही इसके इतिहास के बारे में जिक्र करेंगे.

samosa history in hindi

 

क्या विदेशी है समोसा – history of samosa in hindi

 

दोस्तों आपको यह बात जानकार हैरानी होगी की समोसे की शुरुआत भारत में नहीं हुई. इतिहासकारों के अनुसार samosa (समोसा) भारत में मध्य पूर्व एशिया के रास्ते से आया.  ईरानी इतिहासकार Abul-Fazl Bayhaqi ने 11 शताब्दी में लिखी गई अपनी किताब Tarikh-i Bayhaqi में समोसे का जिक्र किया है. इस हिसाब से समोसा १० शताब्दी में मध्य पूर्व एशिया में पहली बार पका था जहाँ उसे सम्बोसा कहा जाता था. दसवी सदी से तेहरवी सदी की अरबी किताबो में इसे सम्बुसक कहा जाता था. यह समोसे अर्ध चन्द्राकार होते थे जिसमे प्याज, मॉस, किशमिश औए सूखे मेवो का मसाला भरा जाता था और फिर इसे तेल में तला जाता था. जब इन देशो के व्यापारी भारत में व्यापर करने आये तो वह अपने साथ ले आये अपने कई व्यंजन और उन्हें बनाने की विधि जिसमे से समोसा एक है. और तब से यह मसालेदार व्यंजन भारत का होकर रह गया.  मोरक्को से भारत आये प्रसिद्ध  यात्री और लेखक इब्नबतूता ने अपनी किताब में समोसे का जिक्र करते हुए  लिखा की samosa मुहम्मद बिन तुग़लक़ के दरबार में बहुत चाव के साथ खाया जाता था. सिर्फ यही नहीं मुग़ल दरबार में भी समोसा बहुत शोक के साथ खाया जाता था. इसकी लोकप्रियता का अंदाजा इसे बात से लगाया जा सकता है की आईने अकबरी के साथ साथ कई प्राचीन यात्रियों की कविताओ और लेखो में भी इसका जिक्र मिलता है.

 

जब सन 1500 के आस पास पुर्तगाली पहली बार भारत में अपने साथ आलू लेकर आये तब समोसे का एक नया रूप देखने को मिला जिसकी लोकप्रियता आज भी कम नहीं हुई. आज जो आप आलू और मैदे के त्रिभुजाकार आकार के समोसे का लुत्फ़ उठाते है उसकी शुरुआत पूरी तरह से भारत में ही हुई. वैसे तो समोसे के कई रूप है जैसे मीठा समोसा, मासाहारी समोसा, नूडल्स समोसा लेकिन आलू का समोसा दुनियां में बनने वाले सभी समोसों का बड़ा भाई है यानी सबसे ज्यादा स्वादिष्ट और खाए जाने वाला व्यंजन.

 

तो दोस्तों समोसे के बारे में यह जानकारी आपको कैसी लगी हमें जरुर बताये. अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया तो कृपया इसे शेयर करे. साथ ही हमारे आने वाले सभी आर्टिकल को अपने मेल में पाने के लिए हमें free subscribe करे.

 

you may also like 

जानिए भारत में प्रचलित 10 अन्धविश्वास और उनके लॉजिक

Interesting facts – खाने के बारे में 10 मिथक

शरीर से जुड़े Interesting facts जो ज्यादातर लोग नहीं जानते

दिमाग के कुछ रोचक तथ्य – Amazing facts about human brain

loading...

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *