ज्यादा सेल्फी लेना बना सकता है आपको सेल्फीासाइड का शिकार Selficide in hindi

क्या आप सेल्फी के दीवाने है? क्या आप भी दिन में कई बार सेल्फी लेना पसंद करते है? क्या आप भी यह सोचते है की आपकी सेल्फी पर फेसबुक पर जितने ज्यादा लाइक होंगे आप उतने ज्यादा ट्रेंडी और पोपुलर होंगे. अगर हाँ तो यह पोस्ट आपके लिए है. इसमें हम आपको यह नहीं बताने जा रहे की risky जगहों पर सेल्फी लेने से आपकी जान जा सकती है बल्कि आपको यह बताने की कोशिश करेंगे की किस तरह जरुरत से ज्यादा सेल्फी लेने की आदत आपको डिप्रेशन, अकेलेपन, ocd, Selficide या body dysmorphic disorder का शिकार बना सकती है. तो चलिए जानते है की कैसे ज्यादा सेल्फी लेना आपको मनोरोगी बना सकता है.

 

हाल ही के पिछले कुछ महीनो में दिल्ली के गंगा राम हॉस्पिटल और AIIMS में कई लोगो को भर्ती किया गया जो ज्यादा सेल्फी लेने की आदत से बीमार थे.  इन लोगो में सेल्फी को लेकर काफी जूनून था. यह जूनून इस कदर हावी थी की इनमे से एक लड़की ने नाक की सर्जरी करवानी चाही ताकि सेल्फी में अच्छा पोज़ आ सके. इसके आलावा ऐसे लोग दिन में कई घंटो तक शीशे के सामने सेल्फी क्लिक करने की कोशिश करते जिसके कारण इनमे body dysmorphic disorder के लक्षण दिखाई देने लगे. डॉक्टर्स ने इस अवस्था को Selficide/ सेल्‍फीसाइड का नाम दिया है.

 

क्या है सेल्‍फीसाइड – Selficide in hindi

 

Selficide/ सेल्‍फीसाइड वह अवस्था है जब किसी इंसान को अपने मोबाइल से बार बार सेल्फी लेने की लत लग जाती है. ऐसी लोग पहले अपनी सेल्फी क्लिक करते है और फिर उसे सोशल  मीडिया पर पोस्ट करके ज्यादा से ज्यादा लाइक और पॉजिटिव फीडबैक  पाने की कोशिश करते है. यह स्थिति बैचैनी का रूप भी ले लेती है.  ऐसे में कई बार उसे अपने शरीर की बनावट जैसे नाक, कान, लिप्स, रंग, बाल  भी पसंद नहीं आते. इसलिए वह दिन में कई घंटो तक इसके बारे में सोचकर परेशान होता है. ऐसे में परफेक्ट selfie के चक्कर में या तो आदमी घंटो तक अपनी फोटो क्लिक करने की कोशिश करता है या रिस्की जगहों का सहारा लेता है. ऐसे लोगो में Obsessive-Compulsive Disorder (OCD) के लक्षण में विकसित होने लगते है. मनोविज्ञानिको के मुताबिक एक दिन में 5 – 6 सेल्फी लेकर उसे सोशल मीडिया पर शेयर करना यह स्थिति पैदी करती है.

 

दोस्तों Selficide एक बीमारी न होकर एक अवस्था है. यह अवस्था डिप्रेशन, अकेलेपन या ocd का भी रूप ले सकती है. इसलिए अगर आपका कोई दोस्त या परिवार में कोई व्यक्ति बहुत ज्यादा बार different pose में selfi लेकर भी असंतुष्ट और परेशान रहता है या जोखिम भरी जगहों पर सेल्फी क्लिक करने को कोशिश करता है तो उसे इस बारे में जरुर समझाएं. सेल्फी लेने में कोई बुराई नहीं है लेकिन जब भी कोई चीज जरुरत से ज्यादा की जाती है तो वह परेशानी का कारण बन सकती है.

 

Selfies and Youth: The Good, The Bad OR The Ugly

loading...

OMG! SELFIE लेना पागलपन है

Leave a Reply