shalini dubey युवाओ के लिए एक आदर्श

नमस्कार दोस्तों, आज हम अपने ब्लॉग के जरिए आपको बताने जा रहे हैं एक ऐसी हस्ती के बारे में जो शायद आप युवाओं के लिए प्रेरणा का काम करें एवं जिनका नाम शायद आप में से पहले किसी ने न सुना हो, या हो सकता है कि आपने सुना भी हो। जिन्होने सुना है उनकी नाॅलेज इनके बारे में और मजबूत हो जाएगी और जिन्होंने नहीं सुना है, उन्हें इनके बारे में पता चल जाएगा। इस हस्ती का नाम है shalini dubey.

संक्षिप्त परिचय:-

नाम:- shalini dubey

जन्मस्थान:- वाशिंगटन डीसी, अमेरिका

जन्मतिथि:- 15 अगस्त, सन 1995

नागरिकता:- अमेरिकी

पेशा:- बिजनेस बुमैन, अमेरिकी अधिकारी

कुल संपत्ति:- 25 हजार करोड़ रुपये(अनुमानित)

जीवनसाथी:- दीपांशु तिवारी

shalini dubey

ऊपर दी हुई फोटो देखकर आपको यह लग रहा होगा कि ये कोई माॅडल या हालीवुड फिल्म एक्ट्रेस हैं तो आपको बता दें कि ये हैं shalini dubey, पेशे से व्यवसायी हैं और मात्र 21 बर्ष की उम्र में 25000 करोड की संपत्ति होना इनके परिश्रम की कहानी बताता है।
इससे पहले कि हम यह बताएं यह महान क्यों हैं, आपको इनके जीवन के कुछ पहलुओं से परिचित करा देते हैं।

आरंभिक जीवन:- शालिनी दुबे एक अमेरिकन ईसाई माता और भारतीय हिंदू पिता की संतान हैं। इनके NRI पिताजी कानपुर उत्तर प्रदेश के निवासी थे एवं भारतीय विदेश सेवा में कार्यरत थे और माताजी वाशिंगटन कीं। अमेरिकी होने के बाबजूद उन्हें अपना प्यार भारत में मिला। उनके बाॅय फ्रेंड ‘दीपांशु तिवारी’ रियल एस्टेट सेक्टर के जाने माने नाम ‘श्री राजाबाबू तिवारी’ के नाती और उत्तरप्रदेश के पूर्व मुख्यमन्त्री ‘श्री नारायण दत्त तिवारी’ के परिवार से हैं।

शिक्षा:- उनकी आरंभिक शिक्षा अमेरिका के ‘जेम्स वुड हाइस्कूल’ में ही हुई एवं उच्च शिक्षा के लिए ‘आईआईटी दिल्ली’ में बैचलर डिग्री के लिए विदेशी कोटे के तहत एडमीशन लिया। हालांकि उन्होंने कुछ कारणों के चलते यहां पढाई छोड़कर वापस अमेरिका लौट गईं। अपनी पढाई बीच में ही छोडने के बाबजूद उन्हें विश्व के चार विश्वविधालयों ने ‘डाॅक्टरेट’ की उपाधि से सम्मानित किया है।

बिजनेस:- अमेरिका में जाने के बाद उन्होने मात्र 16 बर्ष की उम्र में अपनी एक सुपरमार्केट सीरीज खोली हालांकि बिजनेस का कोई एक्सपीरियंस न होने की वजह से जल्दी ही यह सीरीज दिवालिया हो गई लेकिन उन्होने यह दिवालिया सीरीज वालमार्ट ग्रुप को बेचकर उससे मिला हुआ पैसा एक साफ्टवेयर कंपनी ‘HIDEMYASS’ में निवेश किया और यहां से शुरू हुई उनकी सफलता की कहानी, उनके इंवेस्टमेंट ने अच्छे रिटर्न दिए और उसी साल सन 2010 में उन्होने लगातार घाटे में जाते ब्रांड ‘केल्वीन क्लेन’ में लगभग 32% हिस्सेदारी बतौर सायलेंट पार्टनर खरीदी। इसके बाद से आज तक केल्वीन क्लेन कभी घाटे में नहीं गया। सन 2011 में उन्होंने ATM और क्रेडिट कार्ड बनाने बाली प्रमुख कंपनी ‘VISA’ के 13% शेयर बतौर सायलेंट पार्टनर ही खरीदे। उसके बाद उन्होने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा जिसके कारण आज उनकी हवाईजहाज बनाने वाली कंपनी ‘Boing’, प्रीमियम सन ग्लासेज बनाने बाली कंपनी ‘Rayban’, हैलीकॉप्टर्स बनाने बाली ‘Bell Helicopters’, विश्व की सबसे बडी जर्मन एयरलाइंस ‘Lufthansa’, आटोमोबाइल कंपनी ‘TOYOTA’ एंटरटेनमेंट कंपनी ‘Marvel’ और ग्लोबल एजुकेशनल सर्च इंजन ask.com में बतौर सायलेंट पार्टनर अच्छी खासी हिस्सेदारी है। इसके अलावा भी उनकी कई और कंपनियों में हिस्सेदारी है।

इंवेस्टमेंट– वे कंपनियों की मालकिन होने के साथ साथ बडे पैमाने पर स्टार्ट अप कंपनियों में निवेश भी करतीं हैं। उनकी निवेश की हुईं अधिकतर कंपनियां भारतीय हैं जिनमें ‘Healthkart’, और ‘Imazesbazzar’ प्रमुख हैं। इसके अलावा वे फाइव स्टार होटल चेन ‘The Lalit’ की सबसे बडी निवेशक हैं।

कुछ अन्य तथ्य:

1- हालांकि वे ‘Simple Living and High thinking’ में विश्वास रखतीं हैं लेकिन वे लक्जरी गाडियों की बहुत शौकीन हैं। उनके बेड़े में 13 लग्जरी गाडियां और 2 शानदार प्राइवेट जेट्स हैं।

2– बिजनेस टायकून होने के बाबजूद उन्होने अमेरिका की सेना और अमेरिकन एयरफोर्स में एक साल तक अपनी सेवाएं दीं हैं। वे अमेरिकी सेना की तीसरी सबसे बडी हथियार सप्लायर हैं।

3– अमेरिकी राष्ट्रपति ओबामा उनकी बहुत इज्जत करते हैं, वे उनकी अत्यंत करीबी इंसानों में से एक हैं। उनके बारे में कहा जाता है कि वे इकलौती ऐसी शख्शियत हैं जिनके लिए ओबामा अपनी कुर्सी छोडकर खडे हो जाते हैं। वे आगामी अमेरिकी राष्ट्रपति के पद हेतु प्रबल दावेदार माने जा रहे ‘डोनाल्ड ट्रंप’ कीं भी बिजनेस पार्टनर हैं।

4– बिजनेस टायकून होने के अलाबा उन्हें अमेरिकी सरकार ने कई महत्वपूर्ण पद दे रखे हैं। Central Intelligence Agency की cyber security विभाग कीं प्रमुख हैं। वे White House की सुरक्षा कंसल्टेंट भीं हैं।

5– वे जिन कंपनियों की मालकिन हैं, उनके प्रोडक्ट का उपयोग कभी नहीं करतीं।

6– एक बार उन्होंने अमेरिका की प्रतिष्ठित पत्रिका ‘Forbes’ पर केस कर दिया था क्योंकि पत्रिका ने उनकी संपत्ति बिना अनुमति से छाप दी थी। जैसा कि सबको अंदाजा था, फैसला शालिनी दुबे के पक्ष में ही आया। तब से उनके बारे में कोई अखबार, पत्रिका  या बेबसाइट बिना उनकी या उनके बाॅय फ्रेंड की अनुमति के नहीं लिखती।

7– वे सभी कंपनियो में बतौर सायलेंट पार्टनर ही जुडती हैं और इसके बारे में उनका कहना है कि इससे उन्हें मीडिया की रिपोर्ट में आने से आजादी मिलती है और काम भी कम होता है।

8– shalini dubey बच्चों से बहुत प्रेम करतीं हैं। उन्होने 30 बच्चों को गोद ले रखा है जिन्हें वे अपने साथ ही रखतीं हैं। वे हर साल दुनियाभर के बच्चों के लिए लगभग 2000 करोड दान में देतीं हैं।

9– हालीवुड का लगभग 13% बिजनेस किसी न किसी तरह से उनके हांथ से होकर जाता है।

shalini dubey के बारे में पढकर आपको यह तो पता चल ही गया होगा कि सफलता के लिए उम्र कोई मायने नहीं रखती  यदि आपमें कुछ कर दिखाने का जज्बा है। साथ ही सफलता मिलना कोई आसान काम नही है, बहुत मेहनत करनी पड़ती है मेरे दोस्त इस सफलता के लिए।
अगर आप एक बार असफल होते हैं तो आपको हार नहीं माननी चाहिए बल्कि फिर से कोशिश करनी चाहिए क्योंकि कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

धन्यवाद मोहनलाल जी जिन्होंने यह आर्टिकल  हमारे साथ शेयर किया 

shalini dubey

मोहनलाल

पत्रकार IBN

जिला– हमीरपुर, हिमाचल प्रदेश

यदि आप भी कोई  लेख  हमारे साथ शेयर करना चाहते है तो आपका स्वागत है. कृपया अपने लेख हमें whatsknowledge2@gmail.com पर भेजें या contact us पर भेजें. हम आपका लेख आपके नाम और फोटो के साथ publish करेंगे. 


निवेदन ; अगर आपको यह लेख पसंद आया हो तो कृपया इसे शेयर कीजिये और comments करके बताये की आपको यह आर्टिकल कैसा लगा. हमारे आने वाले आर्टिक्ल को पाने के लिए नीचे फ्री मे subscribe करे।


recommended articles

ACRES OF DIAMONDS STORY IN HINDI

henry ford and v-8 engine story in hindi: impossible is possible

story of self improvement in hindi

9 Comments

  1. Amul Sharma 07/06/2016
  2. Sudhir kumar 11/06/2016
  3. Balram sharma 11/08/2016
  4. mishraji 30/08/2016
  5. Rajesh Jha 04/09/2016
  6. Babasaheb 14/09/2016
  7. abhay dubey 19/04/2017
  8. Abdur Rahman 23/07/2017

Leave a Reply