short motivational story जीवन का मूल्य

दोस्तो हम यहा आपके साथ एक ऐसी कहानी शेयर करने जा रहे है जो बताती है की इंसान के जीवन का मूल्य कभी कम नहीं होता और इंसान के जीवन का मूल्य विलक्षण होता है। यह कहानी इसी सीख पर आधारित है की व्यक्ति को अपने जीवन का मूल्य कभी कम नहीं समझना चाहिए और अपनी क्षमताओ पर कभी संदेह नहीं करना चाहिए। कई बार ऐसा होता है की व्यक्ति को लगता है की अब वह बेकार हो चुका है और अब जीवन किसी काम का नहीं रहा लेकिन उसे यह नहीं भूलना चाहिए उसके जीवन की कीमत है और यह कीमत कभी कम नहीं होती। इसी कीमत के कारण ही वह अपने लिए, अपने परिवार वालों के लिए और दूसरों के लिए भी मूल्यवान है। इसलिए उसे कभी यह नहीं समझना चाहिए की उसका मूल्य अब शून्य हो चुका है।

एक बार की बात है जब एक मनोवैज्ञानिक प्रोफेसर अपने छात्रो को संबोधित कर रहे थे. उन्होने छात्रो को हजार का नोट दिखाया और कहा की किसे ये हजार का नोट चाहिए सभी छात्रो ने अपने हाथ खड़े कर दिये। उन्होने इस हजार के नोट को मोड दिया और कहा की अब किसे ये हजार का नोट चाहिए सभी के हाथ दोबारा खड़े हो गए। उन्होने इस नोट को पैर के नीचे दबा दिया और उसे गंदा कर दिया और फिर अपने छात्रो से पूछा अब ये नोट किसे चाहिए छात्र हैरान हुए लेकिन दोबारा सबने अपना हाथ खड़ा कर दिया। फिर उन्होने अपने छात्रो को कहा मैंने इस नोट के साथ इतना कुछ किया लेकिन फिर भी आप सब इस नोट को चाहते हो क्योकि भले ही यह नोट मूड गया हो, पहले जैसा ना रहा हो, गंदा हो चुका हो लेकिन इसका मूल्य अभी भी हजार ही है। इसकी कीमत कम नहीं हुई है और सबके लिए अभी भी मूल्यवान है।

आगे उन्होने छात्रो को बताया की वह इस उदाहरण के द्वारा यह दिखाना चाहते है की व्यक्ति का अपने सम्पूर्ण जीवन के दौरान कभी मूल्य कम नहीं होता। वह हारता है, गिरता है और गलतिया करता है कभी कभी ऐसी कठिन परिस्थितिया आ जाती है जब वह कमजोर पड़ जाता है और परिस्थितियो से हार मान जाता है और इसी कारण वह सोचता है की वह अब किसी काम का नहीं रहा। लेकिन उसे कभी यह नहीं सोचना चाहिए क्योकि उसके जीवन का बहुत मूल्य है जो की कभी कम नहीं होगा। भले ही वह बिखर गया हो, कुचल दिया गया हो, हार गया हो लेकिन उसे अपने ऊपर विश्वास रखने की जरूरत है की वो फिर खड़ा होगा और जीतेगा अपने लिए और अपने परिवार के लिए। ऐसा हर इंसान के जीवन मे होता है, हर कोई हर बार नहीं जीत सकता व्यक्ति हारता भी है गिरता भी है और फिर गिर कर उठता और जीतता भी है। समय हमेशा एक जैसा ही रहे यह जरूरी नहीं पर इसका मतलब यह नहीं की वह अब किसी काम का नहीं रहा। कठिन परिस्थितियो मे व्यक्ति को साकारात्मक सोचना चाहिए और आशा की किरण कभी नहीं छोड़नी चाहिए।

अगर आपको जीवन का मूल्य कहानी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तो के साथ भी शेयर करे। आगे के लेख प्राप्त करने के लिए हमे subscribe करे। subscription is free of cost so please subscribe us and like our fb page। अपने सुझाव हमे अपने comments के माध्यम से जरूर दे ये हमारे लिए बहुत उपयोगी साबित होंगे।

recommended stories

ज़िंदगी जीने का नजरिया बताता cup

Tension का ग्लास – ये story आपकी life बदल सकती है

power of optimism – अंधेरे मे रोशनी का प्रतीक

सोच एक बदलाव की शुरुआत – self improvement in hindi

loading...

जानिए क्या है आपकी मंजिलों मे speed breaker

One Response

  1. janak 05/04/2016

Leave a Reply