story of money in hindi दोस्त की मेहनत

दोस्तों हम अक्सर आपको stories के द्वारा अच्छी ज्ञान की बाते बताते है. कहानियो के इसी सिलसिले में आज हम “story of money-दोस्त की मेहनत” आपके लिए लेकर आये है. ये कहानी हमें बताती है की सिर्फ पैसा होना ही आश्वासन नहीं है की हमारी जिन्दगी में सब सरल होगा. पैसे को हाथ की मैल कहा गया है जो कभी किसी के पास टिकता नहीं है. जो पैसा आज आपके पास है वो कल भी आपके पास रहे इसका क्या भरोसा. अगर आज आपके पास पैसा नहीं है तो इसका मतलब ये नहीं की कल भी आपके पास पैसा ना हो और जिसके पास पैसा है अगर उसे अपनी शोहरत बनाये रखनी है तो कैसे? इसी बात को इस छोटी सी कहानी के माध्यम से समझाया गया है.

story of money-दोस्त की मेहनत

एक बार की बात है एक अमीर व्यापारी का बेटा कुछ सोचते हुए सड़क से जा रहा था सामने से एक कार आ रही थी पर उस का ध्यान कही और ही था राह चलते ने उसे अपनी और खींच कर उस की जान बचा ली उस व्यपारी के लड़के ने उस का शुक्रिया अदा किया और देखते ही देखते उन दोनों की दोस्ती गहरी होती चली गई उस व्यपारी के लड़के ने दूसरे लड़के का दाखिला स्कूल में भी करवा दिया। दोनों की दोस्ती को अब दो साल हो गए थे उनकी पढ़ाई भी पूरी हो गई थी फिर एक दिन व्यापारी के लड़के ने अपने दोस्त से पूछा की अब आगे क्या करेगा उस लड़के ने जवाब दिया की “मेहनत कर के अपना घर चलाऊंगा” और तू क्या करेगा उस लड़के ने पूछा तो व्यापारी के लड़के ने जवाब दिया मुझे मेहनत करने की क्या जरूरत है मैं अपने पिता जी का काम संभालूंगा और जब मैं सब सिख जाऊंगा तब तुम्हे भी बुला लूंगा। पर उस लड़के ने महेनत से जी नही चुराया और कही और जा के मन लगा के काम सीखा। दो साल बाद जब वो दोनों मिले तो व्यापारी के लड़के की हालत खस्ता थी तो उस लड़के ने उसका हाल चाल पूछा व्यापारी के लड़के ने अपनी पूरी बात बताई की उस ने काम में ध्यान नही लगाया और उस का सारा कारोबार ठप हो गया अब उस के पास घर तक नही है तब उस के दोस्त ने अपनी कहानी बताई की वो काम करने के लिए दूसरे शहर तक चला गया और खूब मेहनत कर के पैसा कमा लिया है पर वो उसकी मदद तभी करेगा जब वो खुद मेहनत करना चाहेगा।

story of money -moral of the story

चाहे आप कितने भी धनवान क्यों ना हो अगर आप मेहनत से जी चुराते है तो धन भी आप के काम नही आएगा और अगर आप कड़ी मेहनत करते है तो जो आप ने सोच रखा है उस को आप जरूर पा लेंगे और अगर ऐसा न हो तो मंजिल मिलने तक मेहनत करते रहे। कहने का मतलब ये है की पैसा कमाना है तो मेहनत करनी जरुरी है, वरना पैसा तो हाथ की मैल है आज है तो कल नहीं है.

 

Do akshar ka ‘लक’, Dhai  akshar ka ‘भाग्य’, tin akshar ka ‘नसीब’, sade tin akshar ki ‘किस्मत’, ye sabhi char akshar ki ‘मेहनत’  ke aage chote dikhte hai

 

ये कहानिया भी जरूर पढ़े

alexander fleming – चमत्कार की कहानी

व्यापारी की चार पत्नी

राजा की चतुराई की कहानी

 


ये लेख आपको कैसा लगा अपने comments के द्वारा हमें जरूर बताये. इस कहानी को अपने मित्रो के साथ शेयर करे. आगे के लेख प्राप्त करने के लिए हमें subscribe करे जो की फ्री है. 


 

Did you enjoy this article?
सभी नए Posts अपनी E-Mail पर तुरंत पाने के लिए यहाँ अपनी E-mail ID लिखकर Subscribe करें। कृपया यहाँ Subscribe करने के बाद अपनी E-mail ID खोलें तथा भेजे गये वेरिफिकेशन लिंक पर क्लिक करके वेरीफाई करें।
WHATSKNOWLEDGE .COM का WHATSAPP GROUP JOIN करे और पाए सभी आर्टिकल्स सीधे मोबाइल पर हमें WHTASAPP करे 7065908804 पर और लिखे Add me to whatsknowledge group

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *