फिल्मो (films) के महानुभावो का कहना है कि फिल्म समाज का आईना होती है मतलब हमारा समाज जैसा है वैसी ही फिल्म होती है क्या ये बात आपको