जैसे ही हम स्कूली शिक्षा प्राप्त करके कॉलेज लेवल में प्रवेश करते है छात्रों और उनके पेरेंट्स दोनों की ही करियर  (career) चुनाव को लेकर चिंताए बढ़ने लगती