होली में रंगों से स्किन बालो और आँखों को सुरक्षित रखने के उपाय tips to protect skin from colours in holi

होली का त्यौहार आने वाला है, होली के दिन रंग बिरंगे चेहरे देखते ही बनते है और मन खुशियों से भर आता है.  खुशियों के इस त्यौहार में थोड़ी सतर्कता  भी बरती जाए तो आप होली का आनंद भी उठा लेंगे और अपने चेहरे, बालो और आँखों को नुकसान होने से भी बचा लेंगे. आज कल रंगों में मिले हुए केमिकल से त्वचा (skin) को नुकसान होने का खतरा रहता है और स्किन में इन्फेक्शन भी हो सकता है.  आप जिन रंगों से holi होली खेल रहे है हो सकता है उससे आपको खुजली और जलन महसूस हो. तो इस पोस्ट में हम आपको कुछ उपाय बतायेंगे जिनसे आप holi भी मजे से मनाएंगे और अपने स्किन, बालो और आँखों की भी रक्षा करेंगे.

होली में रंगों से कैसे करे शरीर की रक्षा (tips to protect skin hair eyes from colours in holi)

  • होली खेलने से पहले अपने बालो और स्किन  पर नारियल या सरसों या ओलिव  का तेल लगाये. इनमे से कोई भी तेल आप अपने पुरे शरीर पर अच्छी तरह से लगाये. ये आपकी त्वचा की रक्षा करेगा और केमिकल अंदर जाने से रोकेगा.

 

  • रंग खेलने से पहले यह ध्यान रखे की आपके कमीज या टीशर्ट (कपड़े) पुरे आस्तीन वाली हो. कॉटन के कपडे और हल्के रंग के कपडे पहने, ये दूसरे कपड़ो की तुलना में ज्यादा रंग को सोखता है.  ये आपकी त्वचा के लिये सुरक्षित रहेगा.

 

  • अगर गलती से रंग आँखों में चला जाए तो  इससे जलन हो सकती है, ऐसे में हाथो से आँखों को रगड़ना नहीं चाहिए. अपनी आँखों पर पानी से छींटे मारे. आँखों में गुलाब जल की बूंदे डालने से उन्हें आराम पहुचेगा या तो खीरे की स्लाइडो को काट कर पलकों पर कुछ देर के लिए रख ले. कांटेक्ट लेंस पहन कर होली ना खेले.

 

  • रंग लगे शरीर में यदि आप सूरज के सामने बैठ जायेंगे तो रंग सुख कर और पक्का हो जायेगा और फिर जल्दी से उतरेगा नहीं इसलिए सूरज के सामने बैठने से बचे.

होलाष्टक क्या है और होलाष्टक से संबंधित कथाये

  • स्किन को सूरज की किरणों से बचाने के लिए sunscreen लगाये.

 

  • बड़े नाखून ना रखे, रंग खेलने से पहले अपने नेल्स पर गाड़ा नेलपेंट लगा ले.

 

  • शरीर के उन हिस्सों पर जहाँ रंग आसानी से छूटता नहीं जैसे कानो और उँगलियों के बीच वेसिलीन लगाये ताकि रंगों को आराम से छुड़ाया जा सके.

 

  • कई बार होली खेलने के बाद शरीर के कुछ हिस्सों  में  खारिश होने लगती है. ऐसी स्थिति में ठण्डे पानी से शरीर धो ले और तौलिये से सुखा कर शरीर पर बादाम का तेल या लोशन लगाये ताकि शरीर में नरमी आ सके.

 

  • होली खेलने के बाद बालो की सुरक्षा के लिए कोई शेम्पू  करके साफ़ कर ले.

 

  • रंग छुड़ाने के लिए स्किन बार बार रगड़े नहीं.

ये है holi से जुडी पुराणिक कहानियां –पढ़ने के लिए क्लिक करे

 

  • इसके अलावा अगर आप केमिकल रंगों से होली ना खेले, फूलो से या घर पर बने आर्गेनिक रंगों रंगों से Holi खेले तो ज्यादा बेहतर होगा. लेकिन बोला जाता है ना बुरा ना मनो होली है, Holi के दिन कौन आपको कब रंग लगा दे, अत: इसकी तैयारी होली से एक दिन पहले ही कर ले.

Leave a Reply