ये है IAS की परीक्षा मे टॉप करने वाले 5 लोग UPSC 2019 TOPPER  

किसी भी स्टूडेंट का रिजल्ट उसके लिए बहुत अहमियत रखता है और जब रिजल्ट देश की सबसे बड़ी नौकरी पाने का हो तो हम सोच कर ही उत्साहित हो जाते है जी हाँ, हम बात कर रहे है UPSC के रिजल्ट की, बीती शाम UPSC के नतीजे आये. IAS बनने की आकंक्षा रखने वाले जो लोग 2018 में UPSC की परीक्षा मे बैठे उनमे से 759 उम्मीदवारों ने सफलता हासिल की जिनमे कनिष्क कटारिया टॉप पर रहे. वही दुसरे स्थान पर अक्षत जैन, तीसरे पर जुनैद अहमद, चौथे पर श्रेयांश कुमत और पांचवे पर श्रृष्टी जयंत रही. तो आइये जानते है वह इससे पहले ये क्या करते थे और क्या है इनके IAS बनने की प्रेरणा.

 

UPSC Result 2019 –  IAS की परीक्षा को पास करने वाले टॉप 5 छात्रो का सफर 

 

UPSC 2019 TOPPER

 

कनिष्क कटारिया

कनिष्क जयपुर, राजस्थान के रहने वाले है, उन्होंने 2017 में यूपीएससी की तैयारी शुरू की थी और यूपीएससी की परीक्षा पहली बार दी थी. उन्होंने IIT मुंबई से कंप्यूटर साइंस में इंजीनियरिंग किया और लगभग ढाई साल तक बैगलोर में जॉब किया. विदेश में भी वह जॉब कर चुके है।  एक न्यूज़ चैनल को दी अपनी बाईट में उन्होंने बताया कि उन्हें जॉब में अच्छे पैसे मिल रहे थे पर जॉब से संतुष्ट नही थे।  इस बारे में जब अपने पिता से उन्होंने बात कि तो उन्होंने कनिष्क को सिविल सेवा में जाने की राय दी. उनके पिता भी सिविल सेवा से जुड़े रहे है. वह अपने पिता को आदर्श मानते है.

 

अक्षत जैन

अक्षत जैन IIT गुवाहाटी से डिजाइनिंग में ग्रैजुएट है इसके बाद ही वह UPSC की तैयारी में लग गए। पहले प्रयास में वह मात्र 2 नंबर से रह गए थे और इस बार कड़ी मेहनत करने के बाद रैंक 2 हासिल करने में कामयाब हुए. अक्षत जैन का कहना है कि सिविल सर्विस की परीक्षा कड़ी मेहनत करने के साथ साथ संतुलित होना भी जरूरी है

 

जुनैद अहमद

जुनैद एक मध्यमवर्गीय मुस्लिम परिवार से है। उन्होंने बताया कि वह स्कूल में एक औसत विद्यार्थी थे। उन्हें 12वीं की परीक्षा में 60% अंक आये थे और ग्रेजुएशन में उनके 65% अंक थे. कॉलेज से निकल कर अहसास हुआ कि समाज को कुछ देना है तो upsc से बेहतर कुछ नही पर परिवार ने साथ नही दिया और कहा की तुम पढ़ते नही हो बस उसी वक्त से जुनैद ने खुद को पढाई में झोक दिया. उनकी लगन देख कर घर वाले भी उनका साथ देने लगे.

वह पिछले 4 साल से तैयारी में लगे है और पिछले साल उनका IRS में चयन हो गया था लेकिन उनका सपना IAS बनने का था और वह फिर से तैयारी में जुट गए.

 

श्रेयांश कुमत

श्रेयांश कुमत सीकर जिला, राजस्थान के रहने वाले है और उन्होंने यह परीक्षा पहली बार में पास कर ली और चौथा स्थान प्राप्त किया.

 

श्रृष्टी जयंत देशमख

श्रृष्टी जयंत यूपीएससी की लिस्ट में पांचवे स्थान पर रही हालाकि वह महिलाओ में पहले स्थान पर है। श्रृष्टी भोपाल की रहने वाली है उन्होंने भोपल के ही राजीव गांधी प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय से केमिकल इंजीनियरिंग में बीटेक किया और पहली बार में ही यूपीएससी की परीक्षा में पंचाव रैक हासिल किया. श्रृष्टी का बचपन से ही पढने-लिखने के प्रति विशेष रुझान रहा है।  एक इंटरव्यू में श्रृष्टी ने बताया कि बचपन से ही उनका IAS बनने का सपना था और आज वो पूरा हुआ. उनके पिता पेशे से इंजिनियर है और अपनी कामयाबी के पीछे वह अपने परिवार का बड़ा सहयोग बताती है.

 

तो दोस्तो इन लोगो की कामयाबी से उन सभी लोगो को प्रेरणा मिलती है जो किसी competitive exam की तैयारी कर रहे है और अपने टारगेट्स को पाना चाहते है।

उम्मीद करते है यह आर्टिक्ल आपको पसंद आया होगा। आप अपने परीक्षा से संबधित अनुभव हमारे साथ शेयर कर सकते है। साथ ही हमारी वैबसाइट को जरूर subscribe करे ताकि ऐसे ही प्रेरणादायक आर्टिकल हम आप तक पहुचा सके।

 

यह भी जाने  

सिविल सर्विसेज परीक्षा की तैयारी के लिए जरूरी ऑनलाइन वेबसाइट 

जानिए वो क्या चीज है जो आपको successful लोगो से अलग करती है

फर्श से अर्श तक Success story of Neetu Singh in hindi

विक्की रॉय; कूड़ा उठाने से करोड़पति तक motivational story in hindi for success

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

Leave a Reply