हेमपुष्पा क्या है ? इसके उपयोग और फायदे….. hempushpa uses and benefits

हमारे शरीर में कई प्रकार की ऐसी बीमारियां होती हैं जिनका इलाज करने के लिए हमें लगातार दवाइयों का या आयुर्वेदिक टॉनिक का सेवन करना पड़ता है। वैसे तो बहुत से टॉनिक मार्केट में उपलब्ध हैं लेकिन कौन सा सही है इसके बारे में जांच पड़ताल करना बेहद जरूरी है क्योंकि एक गलत दवाई का आपके शरीर पर बहुत बुरा असर पड़ सकता है।  आज हम आपको ऐसे ही एक लाभकारी टॉनिक हेमपुष्पा/Hempushpa के बारे में बताने जा रहे हैं जो एक प्राकृतिक आयुर्वेदिक टॉनिक है और कई प्रकार की बीमारियों को ठीक करने में सहायक भी है। तो आइए जानते हैं आखिर क्या है हेमपुष्पा टॉनिक।

 

हेमपुष्पा क्या है? Hempushpa in Hindi

हेमपुष्पा एक ऐसा आयुर्वेदिक टॉनिक है जो महिलाओं में रक्त की शुद्धि करता है और मासिक धर्म संबंधी विकारों को उनके शरीर में असंतुलित होने पर पूरी तरह से संतुलित बनाता है। महिलाओं के शरीर में होने वाले हार्मोन असंतुलन और लगभग सभी शारीरिक और मानसिक बीमारियों को ठीक करने में यह टॉनिक पूरी तरह से सक्षम है। यह कई प्रकार के प्राकृतिक हर्बल और पौधों के अर्थ से बना हुआ है जो पूरी तरह से लाभकारी है।

हेमपुष्पा टॉनिक में लोध्र, मंजिष्ठा, बाला, पुनर्नवा, बाख, anant amul, bikhri, sgankpushpi, मुस्ली, अश्वगंधा, Dhaiful, daruhaldi, gambhari, nagarmotha, shatavari आदि निर्धारित मात्रा में मिलाए गए होते हैं और यह सभी प्राकृतिक पेड़ पौधे एवं जड़ी बूटियों का मिश्रण है।

 

हेमपुष्पा के फायदे – Benefits of Hempushpa in hindi

 

मूत्र समस्याओं को ठीक

अपनी व्यस्त दिनचर्या के चलते हम छोटी-मोटी परेशानियों पर अक्सर ध्यान देना भूल जाते हैं जैसे पेशाब में जलन या पेशाब के गहरे रंग या अलग रंग का बदलना। ऐसे में मूत्र से जुड़ी समस्याएं आपके लिए हानिकारक सिद्ध हो सकती हैं जिसमें यदि आप हेमपुष्पा का सेवन करते हैं तो आप अपनी पेशाब से जुड़ी सभी समस्याओं को दूर कर सकते हैं। हेमपुष्पा (hempushpa) आपके गुर्दे को साफ करके आपके पेशाब को समस्याओं से निजात दिला सकता है।

 

hempushpa ke fayde

 

स्वस्थ भार

उन महिलाओं के लिए हेमपुष्पा (hempushpa) टॉनिक बेहद फायदेमंद है जो बेहद पतली दिखाई देती हैं और अपने शरीर को हष्ट पुष्ट दिखाना चाहती हैं। यदि वे नियमित रूप से इसका सेवन करती हैं तो उन्हें कुछ दिनों में ही एक उचित वजन प्राप्त होगा और वह शारीरिक रूप से स्वस्थ नजर आने लगेंगे।

 

गैस और कब्ज की समस्याएं

असंतुलित आहार और अनियमित भोजन की वजह से अक्सर हमारे पेट में गैस और कब्ज जैसी समस्याएं उत्पन्न हो जाती हैं। विभिन्न तरीको के बाद भी हम इन समस्याओं से निजात नहीं पा पाते हैं ऐसे में यदि आप नियमित रूप से हेमपुष्पा टॉनिक का सेवन करते हैं तो यह आपके आंतो से जुड़े सभी विकार दूर करके आपको गैस और कब्ज जैसी परेशानियों से निजात दिला सकता है।

 

हार्मोन असंतुलन को करता है ठीक

महिलाएं अक्सर शिकायत करती हैं कि उनके चेहरे पर मुंहासे, तनाव, काले घेरे, अनचाहे बाल और लगातार वजन बढ़ना व कम होना अनिद्रा और पाचन समस्याएं जैसी बहुत सी परेशानियों का सामना उन्हें करना पड़ता है। ऐसे में वे इतनी सारी परेशानियों के लिए कई सारी दवाइयां लेती है जिनके अलग-अलग रिएक्शन उनके शरीर पर होने लगते हैं वही बाकी सारी दवाइयों को साइड में रख कर यदि वे नियमित रूप से हेमपुष्पा (hempushpa) का सेवन करें तो सभी प्रकार की बीमारियां तुरंत ही आपके शरीर से दूर हो सकती हैं और आपको स्वस्थ जीवन देने में सक्षम होती हैं।

 

मासिक धर्म को नियमित करना

अक्सर ऐसा होता है कि उचित खानपान या फिर हार्मोंस के असंतुलन की वजह से मासिक धर्म समय पर नहीं आ पाता है ऐसे में एक महिला के शरीर में कई प्रकार की बीमारियां जन्म लेती हैं। जैसे पेट में दर्द, पेट में सूजन, मासिक धर्म की अनियमितता आदि। यदि कोई महिला नियमित रूप से हेमपुष्पा (hempushpa) टॉनिक का सेवन करती है तो वह इन सभी विकारों से मुक्त होकर नियमित रूप से अपने मासिक धर्म को पा सकते हैं।

 

रजोनिवृत्ति सिंड्रोम को ठीक करना

मां बनना हर महिला का सपना होता है ऐसे में एक निश्चित आयु के बाद महिला का शरीर अंडे का उत्पादन बंद कर सकता है। महिला के शरीर में कम एस्ट्रोजन और प्रोजेस्टेरोन पैदा होने लगता है जिसकी वजह से वह चाह कर भी गर्भवती नहीं हो पाती है। महिला के शरीर में शरीर दर्द, पीठ दर्द जैसी कई सारी समस्याएं उत्पन्न होने लगती हैं परंतु इन सभी समस्याओं का एक ही समाधान है वह है हेमपुष्पा टॉनिक का नियमित रूप से सेवन।

 

गर्भवती महिलाओं के लिए स्वस्थ जीवन

वैसे तो गर्भवती महिला को सभी प्रकार की दवाइयां यहा ताकि की  आयुर्वेदिक दवाई भी  डॉक्टर की सलाह के बिना नहीं लेनी चाहिए। परंतु यह बात भी सच है कि गर्भवती महिलाओं को गर्भधारण करने के दौरान कई सारी समस्याओं का सामना करना पड़ता है जैसे कमजोरी, कब्ज, कमजोर पाचन, पेट दर्द या फिर योनि में दर्द आदि। ऐसे में एक गर्भवती महिला डॉक्टर की सलाह से हेमपुष्पा टॉनिक लेना आरंभ कर सकते हैं जिससे उन्हें कब्ज, कम भूख, पेट दर्द, उल्टी, थकान जैसी सभी बीमारियों से निजात मिल सकती है।

 

खून की कमी की करता है भरपाई

औरतों में अक्सर खून की कमी पाई जाती है क्योंकि वे अंसतुलित आहार करती हैं और अपनी सेहत का ख्याल नहीं रखती हैं। ऐसे में यदि वे हेमपुष्पा टॉनिक नियमित रूप से सेवन करती हैं तो उनके शरीर में आई हुई खून की कमी जल्द ही कम हो जाती है। हेमपुष्पा टॉनिक का दूसरा बड़ा फायदा यह भी होता है कि जिन महिलाओं को मासिक धर्म के समय पेट में अधिक दर्द या फिर अधिक ब्लीडिंग होती है तो उन सभी समस्याओं से निजात पाने के लिए भी वे इस टॉनिक का नियमित सेवन कर सकते हैं।

 

हेमपुष्पा टॉनिक का उपयोग Hempushpa use in Hindi (Dosage)

वैसे तो यह साधारण टॉनिक की तरह ही होती है लेकिन हर दवाई को लेने का एक सही तरीका होता है। दवाई को लेने का सही तरीका एक डॉक्टर ही अच्छी तरह से बता सकता है परंतु यदि आप डॉक्टर की सलाह नहीं लेती हैं तो आप दिन में दो बार हेमपुष्पा टॉनिक 7 मिली मीटर की मात्रा में सेवन कर सकती हैं। इसे आप अनियमित रूप से होने वाली सभी परेशानियों से जीवन पर्यंत निजात पा सकते हैं। यदि आपको इससे जुड़ी कोई भी शंका हो तो आप सीधे डॉक्टर के पास जाकर सलाह मशवरा कर सकते हैं।

 

उम्मीद करते है यह पोस्ट आपके लिए लाभकारी होगा। अगर आपके कोई सवाल या सुझाव है तो आप कमेंट के माध्यम से अपनी बात रख सकते है। हमारे आने वाले सभी आर्टिक्ल की तुरंत नोटिफ़िकेशन पाने के लिए हमे subscribe करें और हमारा facebook page like करें।

 

लेखक के बारे मे

यह पोस्ट विशाल पोरवाल द्वारा लिखा गया है जिनके ब्लॉग का नाम khabarinhindi है। आपके इनकी वैबसाइट पर हैल्थ से संबंधित लेख पढ़ सकते है।

 

यह भी जाने

ashwgandha shatawari-ताकत की आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियाँ से बढ़ाये वजन

जानिए क्या है कौंच बीज पाउडर के फायदे Kaunch Beej benefits in hindi

आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों के इस्तेमाल से पाए डिप्रेशन से छुटकारा

जानिए क्या होती है एंटीडिप्रेसेंट दवाएं और क्या है इनके साइड इफेक्ट्स

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

2 Comments

  1. ruchi singh 09/01/2020
  2. Ayushi 16/01/2020

Leave a Reply