mother’s day ! मदर्स डे स्पेशल story

mother’s day ! मदर्स डे स्पेशल story 

mother’s day (मदर्स डे)   वेस्ट वर्जिनिया  में एना जार्विस नाम की एक महिला के द्वारा समस्त  माताओं  के लिए खास तौर पर पारिवारिक एवं उनके आपसी संबंधों को सम्मान देने के लिए आरम्भ किया गया था. 1912 में एना जार्विस  ने “सेकंड सन्डे इन मे ” (second Sunday in may ) और ‘mother’s day’ (मदर्स डे) शब्द का सृजन किया. तब से लेकर आज तक mother’s day को दुनियां के हर देश में मई के दुसरे रविवार को मनाया जाता है.

किसी भी इंसान के जीवन में मां का क्या महत्व इसे तो शब्दों में बताया ही नहीं जा सकता. इस mother’s day के अवसर पर हम आपके साथ बिजली के बल्ब को अविष्कार करने वाले महान विज्ञानिक थॉमस एडिसन के जीवन पर आधारित के कहानी शेयर करने जा रहे रहे है जो बताती है की किस तरह एक बौद्धिक तौर पर काफी कमजोर बच्चे को उसकी माँ के प्रयासों ने एक महान विज्ञानिक बना दिया:

12 वर्षीय थॉमस एडिसन प्राइमरी स्कूल के छात्र थे. एक दिन एडिसन अपने घर आय और अपने अध्यापक  द्वारा दिए गय ख़त (Letter) को अपनी मां को देते हुए बोले – ” मेरे टीचर ने इस ख़त को सिर्फ आपको  देने को कहा है.
ख़त को पढ़कर उनकी  माँ की आँखों में आँसू आ गये और वो जोर-जोर से रो पड़ीं. जब एडिसन ने पूछा कि इसमें ऐसा क्या लिखा है तो आँसू पोंछ कर वह बोलीं:- बेटा इसमें लिखा है.. “आपका बच्चा बहुत होशियार और जीनियस (Genius) है. हमारा स्कूल आपके बच्चे के लिए बहुत छोटे स्तर (level) का है और हमारे अध्यापक बहुत प्रशिक्षित (train) नहीं है, हम इसे पढ़ा नहीं सकते. आप इसे स्वयं शिक्षा दें । इस दिन के बाद एडिसन के मां ने उसे घर में पढाया और उसके हर experiments में उसकी मदद की.
कई वर्ष बीत गय और उसकी माँ का स्वर्गवास हो गया। अब थॉमस एडिसन काफी प्रसिद्ध (famous) वैज्ञानिक बन चुके थे. उन्होंने फोनोग्राफ और इलेक्ट्रिक बल्ब जैसे कई महान अविष्कार कर लिए थे. एक दिन फुर्सत में वह अपने पुरानी यादकर वस्तुओं को देख रहे थे। तभी उन्होंने आलमारी के एक कोने में एक पुराना ख़त देखा और उत्सुकतावश उसे खोलकर देखा और पढ़ा।
वह वही ख़त था जो बचपन में एडिसन के शिक्षक ने उसे दिया था ..

उस लैटर में लिखा था-
“आपका बच्चा बौद्धिक तौर पर काफी कमजोर (intellectual disable) है इसलिए हम उसे इस स्कूल से निकाल रहे गई. एडिसन हैरान रह गये और घण्टों रोते रहे, और उन्होंने फिर अपनी डायरी में लिखा:

एक महान माँ ने बौद्धिक( intellectual) तौर पर कमजोर बच्चे को सदी का महान वैज्ञानिक बना दिया
(Thomas Alva Edison was an addled child that, by a hero mother, became the genius of the century.)

mothers day whats app status

यह सिर्फ एक माँ की नहीं बल्कि दुनियां की हर माँ की कहानी है जिसका हमारी जिन्दगी में सबसे बड़ा योगदान है.

Happy mother’s day


निवेदन ; अगर आपको यह आर्टिक्ल पसंद आया हो तो कृपया इसे शेयर कीजिये और comments करके बताये की आपको यह आर्टिकल कैसा लगा  और हमारे आने वाले आर्टिक्ल को पाने के लिए नीचे फ्री मे subscribe करे।


 

Did you enjoy this article?
सभी नए Posts अपनी E-Mail पर तुरंत पाने के लिए यहाँ अपनी E-mail ID लिखकर Subscribe करें। कृपया यहाँ Subscribe करने के बाद अपनी E-mail ID खोलें तथा भेजे गये वेरिफिकेशन लिंक पर क्लिक करके वेरीफाई करें।
WHATSKNOWLEDGE .COM का WHATSAPP GROUP JOIN करे और पाए सभी आर्टिकल्स सीधे मोबाइल पर हमें WHTASAPP करे 7065908804 पर और लिखे Add me to whatsknowledge group
7 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *