इन गर्मियों की छुट्टियों में कैसे रखें बच्चों का खास ख्याल

बच्चें तो बच्चें है मौज-मस्ती करेंगे ही और अगर उनकी गर्मियों की छुटियाँ है तो समझ लीजिये पूरा दिन मौज-मस्ती में ही बिता देते है और ऐसे में उनका पूरा रूटीन बिगड़ जाता है. खाने पीने से लेकर सोने तक का पता नही होता. धुप में खेलना, पानी कम पीना, बहुत देर तक टीवी देखना, बेवक्त खाना आदि सारी आदते बिगाड़ लेते है. ऐसे में जरूरत है बच्चों  का खास ख्याल रखने की ताकि उनका शरीर स्वस्थ बना रहे। तो आइये हम बताते है कैसे रखे गर्मियों की छुट्टियों में बच्चों  का खास ख्याल.

 

गर्मियों की छुट्टियों मे ऐसे रख सकते है बच्चो का ध्यान 

 

गर्मी से बचाए.

गर्मियों में हमारे शरीर में पानी की कमी होना लाजमी है। ऐसे में बच्चें खेल कूद में लग जाते है तो पानी पीना भूल जाते है। यहाँ तक की घंटो प्यासे रहते है। ध्यान रखे की बच्चें दिन भर हाइड्रेटेड रहे।  उन्हें पानी के साथ या पेय पदार्थ टाइम पर देते रहे जैसे नारियाल पानी, फलो का रस, लस्सी, छाछ आदि.

 

गर्मियों की छुटियों

 

कार्बोनेटेड पेय पदार्थ.

अपने बच्चों  को कार्बोनेटेड पेय पदार्थों जैसे कोल्डड्रिक आदि से दूर रखे. इसमे इनमे aspartame और सिट्रिक एसिड होते है जो हमारी सेहत के लिए हानिकारक होते है और साथ ही इसे पीने से शरीर मे शुगर की मात्रा की मात्रा भी बढ़ती है।

 

संतुलित आहार दे.

गर्मियों के मौसम में शरीर को अधिक ऊर्जा की जरूरत होती है इसलिए आहार का सही होना बहुत महत्व रखता है।  गर्मियों में हमारे शरीर में मेटाबोलिक बदलाव होते है इसलिए सलाह दी जाती है कि तला हुआ या वासा युक्त भोजन कम करना चाहियें। ऐसे में आप बच्चों  को फल आदि दे सकते है।  आम, लीची, केला, तरबूज, संतरा आदि गर्मियों में शरीर के लिए फायदेमंद होते है.

 

दोपहर की धुप से बचें.

धुप वैसे तो फायदेमंद होती है लेकिन गर्मियों की धुप बहुत तेज होती है और इससे डीहाइड्रेटेड होने का खतरा रहता है।  ऐसे में अपने बच्चों को  दोपहर में बाहर मत निकलने दे और आप भी सुबह जल्दी या फिर शाम को ही घर से निकले.

 

शरीर को ढक कर रखे.

कई बार बाहर जाना जरूरी हो जाता है लेकिन धुप बहुत तेज होती है। ऐसे में खुद को और बच्चों  को ढक कर रखे. और कपडे भी ऐसे पहने की शरीर को हवा लगती रहे.

 

बच्चों  को कार में बंद न करे.

अक्सर हमने देखा है लोग बच्चों  को कार में बंद कर खुद बाहर कही काम से चले जाते है और बोलते है बस 5 मिनट में आ रहे है. बंद कार का तापमान बहुत जल्दी बढ़ता है क्योकि कार मैटल की बनी होती है जो बहुत जल्दी गर्म होता है। यह बच्चों  के लिए खतरनाक हो सकता है.

 

घर के अंदर भी रखे ख्याल.

ऐसा नही है कि आपको केवल बाहर जाते ही बच्चों  का ख्याल रखना होता है बल्कि घर के भीतर भी उनका पूरा ख्याल रखना पड़ता है। आजकल छुट्टियों में घर में AC में रहते है जब हम एक दम बाहर निकल जाते है तो सर्द-गर्म की वजह से बच्चें बीमार हो सकते है या फिर बाहर से आकार एक दम से ठंडा पानी पी लेना भी हानिकारक होता है.

 

मौसमी बदलाव से बचे.

जब जब मौसम बदलता है तो अपने साथ मच्छरों को लेकर आता है जिनसे मलेरिया, डेंगू चिकनगुनिया जैसी बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है। ऐसे में बच्चों  को मच्छरों से बचा कर रखना एक बड़ी चुनौती साबित होती है. अपने आस-पास स्वच्छ माहौल रखे और घर में भी मच्छरों से बचने के लिए इन्तेजाम कर के रखे.

 

दोस्तों आपकी सावधानी ही आपके बच्चों  को सुरक्षित बनाती है।  आप जितना चौक्कने रहेंगे आपके बच्चें उतना अपने बचपन का मजा ले पाएंगे. परन्तु इसका मतलब यह बिलकुल नही है की आप अपने बच्चों को बाहर ही न जाने दे।  उनमे हैल्थ बिगड़ जाने का डर पैदा कर दे.

इस लेख में बताई सभी बातों पर अम्ल करके आप अपने आप को और अपने बच्चों  को गर्मियों की छुट्टियों  में होने वाले दुष्प्रभाव से बचा सकते है. आशा है आपको ये लेख पसंद आया होगा और आप अपने लोगो के साथ इसको शेयर करोगे.

 

यह भी जाने

इन तरीको से बनाये अपनी छुटियों को और भी खास Perfect Vacation tips in hindi

जानिए कौन सा parenting style आपके बच्चो के लिए सबसे ज्यादा फायेदेमंद है

कैसे करे बच्चो की समस्याओं का समाधान Parenting Tips for Teenagers in Hindi

जिद्दी बच्चो के साथ कैसे डील करें 5 Ways To Deal With A Stubborn Child in hindi

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

Leave a Reply