वर्चुअल मेमोरी क्या और क्यों जरूरी है और इसे कैसे बढ़ाये virtual memory in hindi

what is Virtual memory वर्चुअल मेमोरी क्या है, हमें वर्चुअल मेमोरी की जरूरत क्यों है

वर्चुअल मेमोरी ऑपरेटिंग सिस्टम का एक अंग होता है जिसकी साहयता से हम कई एप्लीकेशन अपने कंप्यूटर पर चला सकते है. अगर आपके सिस्टम की रैम कम है तो आप Virtual memory का प्रयोग करके उस कमी को पूरा कर सकते है. मान ले की आप एक से ज्यादा एप्लीकेशन अपने सिस्टम पर खोलते है और आपके सिस्टम की कम रैम इन्हें खोलने की इजाजत नहीं देती तो आप वर्चुअल मेमोरी की साहयता से इस समस्या से निजात पा सकते है.

वर्चुअल मेमोरी आपके कंप्यूटर की रैम की कमी को पूरा करने में सहायक होता है. जब आप एक साथ कई एप्लीकेशन अपने सिस्टम पर खोल लेते है तो रैम मेमोरी के कम होने के कारण क्रैश की स्थिति पैदा हो जाती है, लेकिन virtual memory आपके कंप्यूटर को ये अनुमति प्रदान करता है की वो अस्थायी रूप से डाटा के पेजो की मेमोरी ram से hard disk में ट्रांसफर कर दे. कंप्यूटर रैम के उन क्षेत्रो की तरफ देखता है जो हाल में प्रयोग नहीं किये गए है और उन्हें हार्ड डिस्क में कॉपी कर देता है. जिससे ram में स्पेस खाली होता है और नयी एप्लीकेशन लोड हो पाती है.

कैसे बढ़ाये वर्चुअल मेमोरी की स्पीड HOW TO INCREASE VIRTUAL MEMORY SPEED IN HINDI

virtual memory की स्पीड बढ़ाना आसान है, सबसे पहले control panel पर जाए इसके बाद system and security पर क्लिक करे. इसके बाद system पर क्लिक करे. इसके बाद advanced system settings पर क्लिक करे. system properties का विंडो खुलेगा इसमें advanced पर क्लिक कीजिये. इसके बाद performance की setting पर क्लिक कीजिये. performence options का विंडो खुलेगा. इसमें advanced पर क्लिक कीजिये. virtual memory में change पर क्लिक कीजिये. virtual memory का विंडो खुलेगा. इसके बाद automatically manage paging file size for all drives के सामने बने चेक बॉक्स को uncheck कीजिये. इसके बाद custom size पर क्लिक कीजिये. यहाँ आपको initial size(MB) और maximum size(MB) डालना होगा. ये size RAM पर निर्भर करता है, जो हर किसी के लिए अलग अलग हो सकता है, मान लीजिये की हमारे पास 4 gb ram है तो हमारा initial size(MB) 8192 और maximum size(MB) 9192 होगा, इसके बाद set पर क्लिक करके ok पर क्लिक कीजिये. तब आपसे कंप्यूटर restart करने के लिए पूछेगा तब ok पर क्लीक कीजिये.

initial size(MB) और maximum size कैसे निकाले

अगर आपकी ram 4gb है तो 1024 को 4 से गुणा (multiply) कीजिये आया 4096 और इसे 2 से गुणा करो आया 8192. 8192 को आप initial size में रख लीजिये और maximum size 1000 ज्यादा 9192 रख लीजिये. इसी प्रकार अगर आपकी ram 2 gb है तो 1024 को 2 से गुणा करे आया 2048 इसे 2 से गुणा करे आया 4096. 4096 को initial size में रख लीजिये और maximum size 5096 रख लीजिये.ऐसे ही अगर आपकी ram अगर 1 gb, 6 gb या इससे ज्यादा है तो इसी प्रोसेस से आप initial size और maximum size निकाल सकते है.

तो आपने देखा की कैसे हम अपने कंप्यूटर की virtual memory बढ़ा सकते है और कैसे वर्चुअल मेमोरी अनलिमिटेड मेमोरी बनाने में सहायक हो सकती है, लेकिन यह बात ध्यान रखने योग्य है की अगर हमारा कंप्यूटर virtual memory पर ज्यादा निर्भर करता है तो इससे हमारे कंप्यूटर की परफोर्मेंस कम हो सकती है. इसका कारण है की हार्ड ड्राइव की read और write स्पीड ram की तुलना में काफी कम होती है. डिस्क स्पीड रैम की तुलना में 1000 टाइम्स धीमी होती है. अत: जब भी आपका डाटा ram memory में फिट नहीं होगा और hard disk में ट्रांसफर होगा तो आपकी सिस्टम की performence भी कम होती जाएगी. हालाँकि यह तब होगा जब आप बहुत सारी एप्लीकेशन खोल के बैठे हो और ये एप्लीकेशन काफी ज्यादा मेमोरी ले रही हो. यदि आप performence के कम होने से संतुष्ट नहीं है तो बाहर से ram खरीदना ज्यादा बेहतर उपाय होगा.

इन लेखो को भी जरूर पढ़े

कंप्यूटर की स्पीड बढ़ाने के टिप्स-पढने के लिए क्लिक करे

loading...

जानिए कौन सा processor आपके कंप्यूटर के लिए Best है Intel vs AMD-पढने के लिए क्लिक करे

Leave a Reply