MANAGEMENT OF EXAMINATION STRESS – परीक्षा के समय कैसे करे दिमाग को तैयार

हममे से ज़्यादातर लोगो को परीक्षा (EXAMS) के निकट आने पर पेट मे हलचल और चिंता होने लगती है। ज़्यादातर लोगो के लिए कोई भी वह स्थिति जहा उन्हे प्रदर्शन (perform) करना है और उन्हे पता है की उनकी performance का मूल्यांकन किया जाना है, एक चिंता पैदा करने वाली स्थिति होती है. एक हद तक तो चिंता होना जरूरी है क्योकि वह हमे motivate करती है की हम अपना best performance दे। लेकिन अत्यधिक चिंता का स्तर (HIGH ANXIETY LEVEL) हमारी performance और achievement को प्रभावित करता है. घबराये हुए बंदे मे भावनात्मक रूप से उत्तेजना होती है और इसलिए वह अपनी योग्यता के मुताबिक प्रदर्शन (perform) नहीं कर पाता है.

examination anxiety

परीक्षा (exams) एक तनावपूर्ण स्थिति होती है। तो चलिये हम आपको बताते है की आप इस तनावपूर्ण स्थिति का कैसे सामना कर सकते है और better perform कर सकते है।

परीक्षा के तनाव (EXAMINATION STRESS) से निपटने के लिए दो रणनीतियो का प्रयोग किया जाता है MONITORING OR TAKING EFFECTIVE ACTION और BLUNTING OR AVOIDING THE SITUATION

Monitoring मे तनावपूर्ण स्थिति से निपटारा करने के लिए प्रत्यक्ष और प्रभावशाली कार्रवाई (direct and effective action) की आवश्यकता होती है. Monitoring के लिए निम्नलिखित रणनीतियो का प्रयोग किया जा सकता है (THE FOLLOWING STRATEGIES CAN BE USED FOR MONITORING)

  • PREPARE WELL (अच्छी तैयारी) – exams की अच्छी तैयारी कीजिये तथा समय से पहले तैयारी कीजिये। अक्सर पूछे जाने वाले question और question paper से परिचित हो जाइए। इससे आपको नियंत्रण तथा पूर्वानुमान हो जाएगा तथा के कारण तनाव(stress) की संभावना कम हो जाएगी।
  • पूर्वाभ्यास कीजिये – आप खुद एक बनावटी परीक्षा दीजिये। अपने परिचितो से कहिए कि वह आपकी knowledge को test करे। आप मानसिक रूप से कल्पना मे भी rehearsal कर सकते है। कल्पना मे अपने आपको पूरी तरह शांत होकर एवं विश्वास से भरकर exam देते हुए देखिये तथा फिर कल्पना कीजिये कि आप उत्तम श्रेणी से सफल हुए है। यह आपके आत्मविश्वास को बड़ाएगा.
  • स्कारात्मक सोच (Positive Thinking) – अपने आप पर भरोसा कीजिये। अपने उन विचारो कि जो आपको चिंतित करते है उनकी एक list बनाए और फिर एक एक करके उनका समाधान कीजिये। अपनी रणनीतियो (strategies) पर अधिक ज़ोर दीजिये। अपने आपको स्कारात्मक और उत्साही बनाए।
  • मदद ढूंडिए (Seek support) – अपने दोस्तो, parents, अध्यापक, और अपने सीनियर से मदद मांगने मे मत हिचकिचाए. अपने किसी नजदीक व्यक्ति के साथ तनावपूर्ण स्थिति के बारे मे बातचीत करे जिससे बोझ हल्का लगने लगता है तथा व्यक्ति को अंतदृष्टि विकसित करने मे मदद मिलती है। हो सकता है स्थिति उतनी खराब ना हो जितनी आपको लग रही हो।

दूसरी और BLUNTING STRATEGY मे तनावपूर्ण स्थिति (STRESSFUL SITUATION) को दूर करने और बचने पर ध्यान दिया जाता है.

  • RELAXATION – शांत होकर RELAX होना सीखिये। relaxation से आप अपने विचारो को पुन:गठित करने का अवसर प्रदान करते है। Relaxation के कई तरीके है। इसमे किसी शांत जगह मे आराम से बैठना या लेटना होता है, मांसपेशियो (muscle) को ढिला छोड़ कर, अपने विचारो के प्रवाह को कम करे। इससे आपका तनाव कम होगा और आपकी memory मे भी वृद्धि होगी।
  • EXERCISE – तनावपूर्ण स्थिति हमारी NERVOUS SYSTEM यानी दिमाग को जरूरत से ज्यादा उत्तेजित कर देती है। कुछ समय के लिए हल्की व्यायाम (EXERCISE) या खेल आपको आपका ध्यान अपनी पर focus करने मे मदद करेगा

तो बिना घबराए आगे बड़े BECAUSE TALENT KNOWS WHAT TO DO, TECH KNOWS HOW TO DO IT.

परीक्षाये Exams आते जाते रहते है। कोई परीक्षा आखिरी नहीं होती। इसलिए तनाव लेने की बजाय डटकर सामना कीजिये। NOTHING IS IMPOSSIBLE

मुश्किले दिल के इरादे आजमाती है, स्वप्न के परदे निगाहों से हटाती है

होसला मत हार, गिर कर ओ मुसाफिर। ठोकरे इंसान को चलना सिखाती है

Did you enjoy this article?
सभी नए Posts अपनी E-Mail पर तुरंत पाने के लिए यहाँ अपनी E-mail ID लिखकर Subscribe करें। कृपया यहाँ Subscribe करने के बाद अपनी E-mail ID खोलें तथा भेजे गये वेरिफिकेशन लिंक पर क्लिक करके वेरीफाई करें।
WHATSKNOWLEDGE .COM का WHATSAPP GROUP JOIN करे और पाए सभी आर्टिकल्स सीधे मोबाइल पर हमें WHTASAPP करे 7065908804 पर और लिखे Add me to whatsknowledge group

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *