जानिए सांता क्लॉज़ के बारे history of Santa Claus in hindi

जिंगल बेल्स जिंगल बेल्स, जिंगल आल द वे, ओह! व्हाट फन ईट इस टू राइड, इन अ वन हॉर्स ओपन स्लै….. क्रिसमस के दिनों में ये गीत बच्चो द्वारा ख़ुशी ख़ुशी गाया जाता है और इस गीत में उमंग लाता है बच्चो का फेवरेट सांता क्लॉज़. सेंटा क्लॉज  यानि सफ़ेद लंबी लंबी दाढ़ी वाले बाबा जो लाल रंग के कपड़ो में आते है और बच्चो के थैलों में उपहार डाल जाते है. अपने santa claus  का बच्चे क्रिसमस के दिनों में बेसब्री से इंतजार करते है.  लेकिन कई बार आपके मन में यह सवाल आता होगा की आखिर सेंटा क्लॉज  कौन है? क्या सेंटा क्लॉज  असल में थे या सिर्फ एक काल्पनिक किरदार है? इनका क्रिसमस डे से क्या संबध है? तो दोस्तों आज हम जानेंगे की सांता क्लॉज़ आखिर है कौन और कैसे ये बच्चो की wishes पूरी करते है? तो आइये जानते है

 

कौन है सांता क्लॉज़ –  Santa Claus history in hindi

 

तीसरी शताब्दी में जन्मे सेंट निकोलस को सांता क्लॉज़ के नाम से जाना जाता है. ऐसा माना जाता है कि सेंट निकोलस का जन्म आधुनिक तुर्की में लगभग 280 ईसवी में हुआ था.  निकोलस  बीजान्टिन एनाटोलिया के एक प्रान्त, लिसिया के एक ग्रीक ईसाई बिशप थे. निकोलस रईस परिवार से थे  जो हमेशा  जरूरतमंदों की सहायता  करते । उन्हें अपनी धार्मिकता और दया के लिए जाना जाता था जो बाद में कई कहानियों का विषय बन गया.

निकोलस को 303 ईसवी में रोमन सम्राट डायकलेशिअन द्वारा दंड के रूप में कैद किया गया था, लेकिन कुछ समय बाद सम्राट कॉन्सटाटाइन के आदेश से मुक्त किया गया. इसके बाद, उन्होंने तीस साल तक मायरा में बिशप के रूप में सेवा की।  6 दिसंबर 343 ईसवी निकोलस  की मृत्यु  हुई थी इसलिए हर साल इस तारीख को Saint Nicholas Day के रूप में मनाया जाता है.

हालांकि santa claus  की जो अब लाल पौशाक और हंसमुख  लंबी लंबी दाढ़ी वाली छवि दिखाई जाती है वह पहले नहीं थी.  हमारे पॉपुलर मॉर्डन सैंटा क्लॉज़ का यह रूप 19 वीं सदी में संयुक्त राज्य अमेरिका और कनाडा में सामने आया.

 

1822 में क्लीमेंट मूर ने अपने बच्चों के लिए एक कविता लिखी, जिसे “नाइट बिफोर क्रिसमस” कहा जाता है. इसमें छपे सांता के कार्टून ने लोगो को अपन और आकर्षित किया.  कुछ समय बाद 1863 में  राजनीतिक कार्टूनिस्ट थॉमस नास्ट ने “हार्पर्स वीकली”  में सांता की एक तस्वीर प्रकाशित की जिसमे उन्हें दाढ़ी और  लाल पोशाक में दिखाया . आज  सांता क्लॉज़ के बार में एक कहानी काफी प्रचलित है की वे उत्तरी ध्रुव में रहते है. इस कहानी का निर्माण भी नास्ट ने ही किया था.  इसके बाद हैडन संडब्लोम नामक आर्टिस्ट  ने कोका-कोला की एक ऐड में santa claus  की लगभग 35 सालो तक भूमिका निभाई. सांता की यही छवि आज तक चली आ रही है.

 

रात में क्यों गिफ्ट्स देने आते है सांता क्लॉज़ –  Santa Claus  story in hindi

 

कई लोगो के मन में यह बात आती है की आखिर रात ही में क्यों सांता क्लॉज़ बच्चो की wishes पूरा करने  और उनकी जुराबो में गिफ्ट्स भरने आते है.  इसके पीछे एक प्रसिद्ध कहानी है जो निकोलस की दया और लोगो के प्रति सेवा को दर्शाती है . कहानी के अनुसार एक गरीब व्यक्ति था जिसके पास अपनी तीन बेटियों की शादी के लिए पैसे नहीं थे इसलिए वह उन्हें  देह व्यापार में मजबूरन दखेल रहा था । तब निकोलस ने उन लड़कियों को वेश्यावृत्ति से बचाने के लिए चुपके से उन  तीनों की बाहर  सूख रही जुराबों में सोने के सिक्कों की थैलियां रख दी और इस तरह उन्होंने अपनी उदारता दिखाई ।

इसलिए आज बच्चे क्रिसमस की रात में बच्चे अपनी  जुराबो और थैलों को घर की छतो पर लटकाते हैं ताकि सांता उनके गिफ्ट्स उनमे रख सकें.

 

दोस्तों उम्मीद करते है आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा. कृपया इसे शेयर करें और हमारे आने वाले सभी आर्टिकल्स को सीधे अपने मेल में पाने के लिए हमें फ्री सब्सक्राइब जरुर करें.

 

यह भी जाने

hemis festival in hindi हेमिस त्यौहार क्या है कब कैसे और क्यों मनाया जाता है

जानिए क्यों किया जाता है हर साल तुलसी विवाह tulsi vivah story in hindi

छठ पूजा से जुडी पौराणिक कहानियाँ chhath puja story in hindi

जानिए गणेश चतुर्थी से जुडी कहानी और इसका इतिहास

जानिए क्यो मनाई जाती है बैसाखी baisakhi Festival

contact for web designing

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

Leave a Reply