जानिए रिज्यूमे बनाने से पहले किन बातो का रखे ध्यान resume in hindi

12th, ग्रेजुएशन या फिर  पढाई पूरी करने के बाद सबसे पहले जो समस्या आती है वो है resume कैसे बनाये. अकसर लोग इन्टरनेट पर search कर के resume बना तो लेते है लेकिन resume बनाने से पहले की तैयारी ही नही करते जिससे कई सारी कंपनिया उनका resume ही एक्सेप्ट नही करती और उन्हें interview के लिए भी नही बुलाती. resume का सही मतलब है प्रोफेशनल तरीके से खुद को लिखना. और हम खुद को लिख देते है जबकि ये सबसे बड़ी गलती है क्योंकि हम अपनी सेवाए यानि service बेच रहे है खुद को नही बेच रहे. तो कह सकते है की हमे अपनी सेवाओ का एक पोस्टर बनाना है जिस पर कंपनी की नज़र पड़ते ही वो हमारी सेवाए खरीदना चाहे. और ऐसा तभी संभव है जब हमारी सेवाए कंपनी के हिसाब से होंगी…

अब resume बनाने से पहले हमे 5 बड़ी बातो को ध्यान में रखना जरुरी है जो ज्यादातर candidate नही करते…

 

Things to Keep in Mind When Writing Your resume

 

resume

 

1 नौकरी का विज्ञापन

 

किसी भी नौकरी को पाने के लिए उसके विज्ञापन को अच्छे से पढ़ ले. नौकरी किस पोस्ट के लिए है, क्या skill मांगा गया है और अच्छे से उस विज्ञापन को अपने दिमाग में बैठा ले ताकि resume को आप कंपनी के हिसाब से बनाये. और ये विज्ञापन आप जिस कंपनी में अप्लाई कर रहे है उनकी वेबसाइट पर मिल जाएगा.

 

2 पद/पोस्ट की जिम्मेदारिया

 

resume बनाने से पहले इन्टरनेट पर सर्च कर ले कि जिस पोस्ट के लिए आप अप्लाई करने जा रहे है उस पोस्ट की क्या क्या जिम्मेदारिया है. इससे आपको आपके काम की तस्वीर साफ़ हो जाएगी यानि आपको पता चल जाएगा की आपको किस काम के लिए resume बनाना है.

 

3 पोस्ट के गुण/स्किल

 

उस पोस्ट के skill को भी आप इन्टरनेट पर अच्छे से देख ले समझ ले. क्या वो स्किल आप में है जो उस पोस्ट के लिए जरुरी है या आप वो स्किल डेवेलोप कर सकते है. ये एक बहुत ही बड़ी चीज़ है की आपमे वो स्किल हो जो उस पोस्ट पर चाहिए और फिर उस हिसाब से आप अपने resume में वो स्किल लिख सकते है .इसके लिए समय समय पर जरुरत के हिसाब रिज्यूमे को बदलना जरुरी है.

skill for resume

 

4 resume को छोटा रखे

 

बायोडाटा या रिज्यूमे बनाते वक्त एक और बात का जरुर ध्यान रखे की आपका रिज्यूमे छोटा हो. interview लेने वाले के पास इतना समय नहीं रहता की वह आपकी स्कूल से अब तक की उपलब्धियों को पढ़ सके. इसलिए आपका अपनी बातो को साफ़ और सीधे शब्दों में रखना काफी जरुरी है. कोई भी कंपनी या इंटरव्यू बोर्ड 4 – 5 लम्बे रिज्यूमे को पढना पसंद नहीं करती. ऐसे रिज्यूमे का पहला और दूसरा पेज देखकर साइड कर दिया जाता है. इसलिए जितना हो सके अपनी मुख्य योग्यताओ को उभारे.

 

5 कमियां लिखने से बचे

 

अगर आपका करियर उतार चढाव भरा रहा है तो उसे अपने resume में लिखने से बचे. जैसे अगर आपने किसी कंपनी को बहुत थोड़े से समय में काम करके छोड़ा है या किसी वजह से आपको उस कंपनी से निकला गया है तो उस कंपनी का विवरण लिखने से बचे. इनका जिक्र करने से आपको एक इंटरव्यू पैनल के सामने इसका संतोषजनक कारण बताना पढ़ सकता है. ऐसा न कर पाने से इसका आप पर negative impression पढ़ सकता है.

 

इन बातो को ध्यान में रख कर resume बनाया जाएगा तो resume देखने के बाद आपको इंटरव्यू के लिए कॉल जरुर आयेगा. अगर आपका कोई सवाल या सुझाव हो तो कृपया comment करे.

 

साथ ही यह आर्टिकल अपने दोस्तों के साथ भी जरुर share करे. और हमारे आर्टिकल को सीधे अपने email में पाने के लिए free subscribe करे .

 

you may also like

जानिए कैसे करे इंटरव्यू की तैयारी – best interview tips in hindi

सफलता पाने मे body language डालती है प्रभाव

जानिए कैसे करे करियर का सही चुनाव Career Selection

INTERESTING PSYCHOLOGICAL FACTS ABOUT BODY LANGUAGE

One Response

  1. rajan 28/05/2017

Leave a Reply